17 साल पुराना रिकॉर्ड मांगा तो बंद कर दिए प्राइवेट स्कूल

0
47

कोटा। माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने निजी स्कूलों से 17 साल पुराना ऑनलाइन रिकॉर्ड मांगने समेत अन्य व्यवस्थाएं थोपने के विरोध में प्रदेश आह्वान पर कोटा में प्राइवेट स्कूल संगठन समिति ने स्कूलों को बंद करने का आह्वान किया है। एेसे में जिले के निजी स्कूल गुरुवार को बंद रहेंगे।

प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष सत्यप्रकाश शर्मा ने बताया कि माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा 2001 से 2017 तक की सम्पूर्ण सूचनाएं, जिसमें वार्षिक शुल्क, सम्बद्वता शुल्क, अध्यापक विवरण, अन्य कई सूचनाएं ऑनलाइन मांगी जा रही है, जो किसी प्रकार से उचित नहीं है।

51 स्कूलों को बंद करने का निर्णय
इसी मामले में निजी विद्यालयों के सभी संगठनों की हुई बैठक में आरबीएसई व उससे जुड़े जिले के कुल 1105 निजी स्कूल गुरुवार को बंद रखने का निर्णय किया। प्राइवेट स्कूल वेलफेयर सोसायटी के महामंत्री संजय शर्मा ने बताया कि सरकार ने इस सत्र से कक्षा पांचवीं के विद्यार्थियों के लिए बोर्ड अनिवार्य किया हैं, जो किसी भी प्रकार से इतने छोटे बच्चों के लिए उचित नहीं है।

कोटा एजुकेशन डवलपमेंट के अध्यक्ष ओम माहेश्वरी व सचिव कुलदीप माथुर, निजी विद्यालय संचालक संस्थान के महामंत्री पंकज महेन्द्र वात्स्य, गैर सरकारी विद्यालय संचालक संघ के संरक्षक मुकुट कुशवाह व प्रोग्रेसिव सहोदय काम्पलेक्स ने बंद का पूर्ण समर्थन किया है।  कुशवाह ने बताया कि कोटा से करीब 200 निजी स्कूल संचालक गुरुवार को अजमेर बोर्ड का घेराव करेंगे।