पद्‌मावती फिल्म का विरोध; दीपिका के पोस्टर पर चप्पलें मारी, फिर जलाया

0
35

कोटा। शहर में संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। मंगलवार को जहां करणी सेना ने लोगों को जोड़ने के लिए हस्ताक्षर अभियान की शुरुआत की।

वहीं दूसरी ओर सर्व समाज की ओर से एरोड्रम सर्किल पर एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण के पोस्टर पर चप्पलें मारी और पोस्टर में दीपिका की नाक काटकर पोस्टर को जलाया गया।

सर्व समाज ने हिम्मत सिंह के नेतृत्व में एरोड्रम सर्किल पर आतिशबाजी की और दीपिका पादुकोण द्वारा प्रचारित किसी भी प्रोडक्ट का उपयोग नहीं करने को कहा गया। राष्ट्रीय नवनिर्माण संस्थान के अध्‍यक्ष हिम्मत सिंह ने कहा कि सभी राज्यों की सरकारें इसे प्रतिबंधित करे।

दीपिका के पोस्टर पर महिलाओं ने पहले चप्पलें मारी और उसके बाद पोस्टर की नाक काटी गई। उसके बाद पोस्टर को पेट्रोल डाल आग के हवाले किया गया। प्रदर्शन में लेखक जावेद अख्तर के बयान पर कड़ा एतराज जताया और उनसे देश में सार्वजनिक रूप से माफी मांगने की मांग की, अन्यथा उन्हें देशछोड़ कर जाने के लिए कहा गया।

प्रदर्शन में कमल चतुर्वेदी, जितेंद्र सिंह, विशाल सिंह, श्वेतांक दीक्षित, गोविंद नायक, राहुल खंडेलवाल, अभिषेक शर्मा, निक्कू सुखवानी, महेंद्र सिंह, गोविंद सिंह, कुलदीप राठौड़, राजेश वर्मा, प्रवीण भारद्वाज, दीपक यादव, अनीसा बानो, रेशमा मौजूद थीं।

 हस्ताक्षर अभियान भी चलाया
राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना की ओर से पद्मावती फिल्म को बैन की मांग को लेकर मंगलवार को शहर में हस्ताक्षर अभियान चलाया गया। इसमें शहरवासियों ने राजस्थान के इतिहास को मनोरंजन के नाम पर तोड़-मरोड़कर पेश करने के खिलाफ आक्रोश जाहिर किया।

दोपहर 12 बजे से जेडीबी कॉलेज से हस्ताक्षर अभियान की शुरुआत की गई। इसमें छात्राओं ने इसे समर्थन देते हुए वाहन पर लगे बैनर पर हस्ताक्षर किए। छात्र शक्ति ने कहा कि जिस फिल्म में भारतीय संस्कृति इतिहास के तथ्यों को तोड़मोड़ कर प्रदर्शित किया जाएगा फिल्म नहीं चलने देंगे।

इसके बाद ये अभियान राजकीय महाविद्यालय, कलेक्ट्रेट चौराहा, नयापुरा चौराहा, छावनी, चौपाटी अंत में गोदावरी धाम वाहन पहुंचा। सब जगहों पर लोगों ने आगे बढ़कर बैनर पर हस्ताक्षर किए और फिल्म को नहीं चलने देने के लिए कहा।  करणी सेना प्रदेश उपाध्यक्ष मंजीत सिंह नाथावत ने कहा कि फिल्म में इतिहास को गलत तरीके से दिखाना सही नहीं है।

इस कार्यक्रम में करणी सेना की प्रदेश महासचिव नीना छापोल, महिला इकाई जिलाध्यक्ष रश्मि राठौड़, जिलाध्यक्ष निर्भय सिंह, पूजा सोलंकी, भारती सोलंकी, नेहा हाड़ा, निशु हाड़ा, प्रताप सिंह, मोहित सिंह, देवेंद्र शक्तावत, भगवान सिंह, पुष्पेंद्र गौड़, महिपाल सिंह, नागेन्द्र हाड़ा, उपेंद्र राठौड़, शिवराज सिंह आदि मौजूद थे।

फिल्म पर रोक लगाकर सीएम ने प्रदेश को जलने से बचाया : राजावत
विधायक भवानी सिंह राजावत ने कहा कि विवादास्पद फिल्म पद्मावती को लेकर केवल राजपूत समाज बल्कि संपूर्ण हिंदू समाज में आक्रोश भड़क उठा था। उत्तेजित लोग पथराव आगजनी पर उतारू थे।

ऐसे में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने इस फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाकर प्रदेश को आंदोलन की आग में जलने से बचा लिया। विधायक ने मुख्यमंत्री का आभार प्रकट करते हुए कहा कि उन्होंने जनभावनाओं का आदर करके सूझबूझ का परिचय दिया।