अब जान सकेंगे भर्तियों में सफल अभ्यर्थियों के प्राप्तांक

0
550

राजस्थान सूचना आयोग का बड़ा फैसला, भर्ती में असफल अभ्यर्थियों को यह जानने का हक है कि अपने प्रतिस्पर्धियों से वे कहां पिछड़े

जयपुर। राजस्थान सूचना आयोग ने प्रदेश में सरकारी भर्तियों में पारदर्शिता लाने के लिए एक महत्वपूर्ण दिशा निर्देश जारी किए है। इसमें कहा गया है कि सूचना का अधिकार के तहत भर्ती परीक्षा में चयनित अभ्यर्थियों के प्राप्तांकों की सूचना तृतीय पक्षकारों की सूचना बता कर देने से इनकार नहीं किया जा सकता।

आयोग ने कहा कि इससे चयनित अभ्यर्थियों की निजता भंग नहीं होगी, बल्कि भर्ती परीक्षा में पारदर्शिता रखने के लिए अंतिम चयनित अभ्यर्थियों के प्राप्तांक स्वैच्छिक रूप से सार्वजनिक करने चाहिए।

आयोग ने राजस्थान लोक सेवा आयोग को निर्देश दिए हैं कि अभी प्रक्रियाधीन एवं भविष्य में आयोजित सभी परीक्षाओं में अंतिम चयनित अभ्यर्थियों की सूची राज्य सरकार को भेजने के साथ ही इन अभ्यर्थियों के लिखित एवं साक्षात्कार के अन्तिम प्राप्तांक आयोग की वेबसाइट पर सार्वजनिक करें।

राज्य सूचना आयुक्त आशुतोष शर्मा ने गत दिनों जयपुर के अरूण जोशी की द्वितीय अपील पर यह महत्वपूर्ण आदेश दिया है। जोशी ने फरवरी 2016 में सहायक अभियन्ता भर्ती में चयनित अभ्यर्थियों के लिखित व साक्षात्कार के प्राप्तांकों की सूचना चाही थी।

आरपीएससी ने यह कहते हुए सूचना देने से इनकार कर दिया कि यह सूचना तृतीय पक्षकारों की व्यक्तिगत सूचना है जिसे दिए जाने से अन्य अभ्यर्थियों की निजता भंग होगी। आयोग ने अपने फैसले में आरपीएससी के इस तर्क को नहीं माना।

आयोग ने कहा कि भर्ती में असफल अभ्यर्थियों को यह जानने का हक है कि अपने प्रतिस्पर्धियों से वे कहां पिछड़े। सफल अभ्यर्थियों के प्राप्तांक सार्वजनिक होने से उनकी निजता भंग नहीं होगी बल्कि यह सार्वजनिक विषय है न कि व्यक्तिगत।

आयोग ने निर्देश दिए कि सरकारी भर्ती में नौकरी पाने वाले अभ्यर्थियों के प्राप्तांकों की सूचना पारदर्शिता व व्यापक जनहित में सूचना का अधिकार अधिनियम की धारा 4 (2) के तहत सार्वजनिक की जानी चाहिए।

अब आएगी पारदर्शिता
गौरतलब है कि भर्ती परीक्षाओं की निष्पक्षता पर सवाल उठने और अनेक न्यायिक विवादों के बावजूद आरपीएससी अब तक भर्ती परीक्षाओं में चयनित अभ्यर्थियों के प्राप्तांकों की सूचना व्यक्तिगत बता कर अन्य अभ्यर्थियों को नहीं देती थी। अभ्यर्थी स्वयं के प्राप्ताकों की सूचना प्राप्त कर सकता था।

राजस्थान सूचना आयोग के ताजा निर्णय से आरपीएससी को सभी सफल अभ्यर्थियों के लिखित व साक्षात्कार के प्राप्तांकों की सूचना सार्वजनिक करनी होगी जिससे कोई भी व्यक्ति देख कर विश्लेषण कर सकेगा। इससे भर्तियों में पारदर्शिता आएगी।

बड़ी संख्या में आरटीआई, होगा असर
भर्ती परीक्षाओं में असफल हुए हजारों अभ्यर्थियों में से बड़ी संख्या में अभ्यर्थी आरटीआई के तहत आवेदन कर आरपीएससी से प्राप्तांकों की सूचनाएं मांगते हैं जो उन्हें नहीं मिल पाती। सूचना आयोग के ताजा आदेश से इन अभ्यर्थियों को राहत मिलेगी।