झालावाड़ में एयर एंबुलेंस के लिए हेलीपैड का रास्ता साफ

0
49

8.48 करोड़ से जनाना अस्पताल की छत पर बनेगा हेलीपैड, टेंडर प्रक्रिया पूरी

झालावाड़। जिलेवासियों के लिए एक अच्छी खबर है, उनको अगले साल नवंबर 2018 तक एयर एंबुलेंस की सुविधा मिलना शुरू हो जाएगी। जिला जनाना अस्पताल पर बनने वाले भवन और उस पर बनने वाले हेलीपैड की सभी अड़चनें दूर हो गई है।

टेंडर प्रक्रिया पूरी होने पर संबंधित ठेकेदार ने निर्माण की तैयारी शुरू कर दी है। जिला एसआरजी अस्पताल में आने वाले गंभीर मरीजों को रैफर होने पर तुरंत एयर एंबुलेंस की सुविधा मिले। इसके लिए जिला जनाना अस्पताल पर एक ओर भवन बनाकर उसपर हेलीपैड बनाया जाना है।

इसके लिए राज्य सरकार ने दूसरी बार बजट जारी किया है। 8 करोड़ 48 लाख रुपए की लागत से भवन हेलिपैड बनाया जाना है। हेलीपैड के लिए अभी तक दो बार टेंडर प्रक्रिया हो चुकी है, लेकिन हर बार कोई कोई अड़चन आने से भवन का निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पा रहा था।

अब टेंडर प्रक्रिया पूरी होने पर ठेकेदार ने निर्माण सामग्री डालकर निर्माण की तैयारी शुरू कर दी है। आरएसआरडीसी को हेलीपैड का निर्माण कार्य 10 अगस्त 2018 तक पूरा करना है।

प्रदेश का पहला अस्पताल होगा
झालावाड़ के जिला जनाना अस्पताल में हेलीपैड बनने के बाद एयर एंबुलेंस उतरने पर यह प्रदेश का पहला अस्पताल होगा, जहां एयर एंबुलेंस की सुविधा मुहैया होगी।

अभी प्रदेश के किसी भी अस्पताल में एयर एंबुलेंस उतरने की सुविधा नहीं है। अभी तक एयर एंबुलेंस की सुविधा नहीं होने पर गंभीर मरीजों के लिए दिल्ली से एयर एंबुलेंस बुलाई जा रही है। पांच बार एंबुलेंस चुकी है।