SMS भेजकर आम आदमी को जागरूक करेगा आरबीआई

0
33

मुंबई। रिजर्व बैंक धोखेबाजों के फर्जीवाड़े और जालसाजी से लोगों को बचाने के लिए बड़ा अभियान छेड़ेगा। केंद्रीय बैंक ‘सुनो आरबीआई क्या कहता है’ अभियान के तहत एसएमएस भेजकर आम आदमी को जागरूक करेगा। 

रिजर्व बैंक ने बैंकिंग, बीमा, शेयर बाजार और चिट फंड योजनाओं में बढ़ते फर्जीवाड़े और धोखाधड़ी को लेकर यह कदम उठाया है। पिछले कुछ सालों में मोबाइल कॉल, एसएमएस और ईमेल के माध्यम से लोगों के साथ धोखाधड़ी करने और ठगने की घटनाएं बढ़ी हैं।

रिजर्व बैंक ने कहा कि भारत का केंद्रीय बैंक जल्द ही एक जनजागरण अभियान शुरू करेगा। इसमें एसएमएस के माध्यम से लोगों को उपलब्ध बैंकिंग सेवाओं और विभिन्न बैंकिंग कानूनों के प्रति जागरूक करेगा। रिजर्व बैंक ‘आरबीआई से’ (आरबीआई कहे) पहचान के साथ यह संदेश भेजेगा।

केंद्रीय बैंक पहली बार लोगों को जागरूक करने के लिए उसी माध्यम का उपयोग कर रहा है जिसका उपयोग धोखेबाज ठगने के लिए करते हैं।
     
मिस्ड कॉल देकर फर्जी कॉलों का पता लगाएं
रिजर्व बैंक के अनुसार, लोग 8691960000 नंबर पर मिस्ड कॉल देकर फर्जी कॉलों या ई मेल की सच्चाई जान सकते हैं। इसमें आईवीआर सिस्टम के जरिये मदद की जाएगी। इस पर आम आदमी को निवेश के सुरक्षित विकल्पों की जानकारी के साथ चिट फंड के जोखिम को लेकर सावधान किया जाएगा।