हिम्मत है तो दूसरे धर्म पर भी फिल्म बनाकर दिखाएं-राजावत

0
39

पद्मावती का विरोध करते हुए कहा-प्रदर्शित नहीं होने देंगे फिल्म

कोटा।अपने बयानों के लिए चर्चा में रहने वाले लाडपुरा से भाजपा विधायक भवानी सिंह राजावत ने शनिवार को एक बार फिर बयान दिया।

पद्मावती फिल्म का कड़ा विरोध करते हुए राजावत ने कहा कि यदि किसी फिल्म निर्माता में हिम्मत है तो दूसरे धर्मों पर भी फिल्म बनाकर बताएं, हिंदू धर्म की सहिष्णुता का नाजायज फायदा नहीं उठाएं।

उन्होंने कहा कि पद्मावती केवल राजपूत समाज बल्कि पूरे हिंदू समाज के लिए शौर्य और बलिदान की प्रतीक हैं। उन्हें इस तरह दर्शाया जाना राजस्थान की आन-बान-शान और मेवाड़ के गौरव का घोर अपमान है।

यदि निर्माता को रानी पद्मावती पर फिल्म ही बनानी थी तो उनके 16 हजार रानियों के साथ जौहर करने पर फिल्म बनाते, जिसे देखकर वर्तमान पीढ़ी के भी रोंगटे खड़े हो जाते।

लेकिन, निर्माता ने वास्तविक तथ्यों को तोड़ मरोड़कर उपन्यास पर आधारित फिल्म बनाकर राजस्थान के गौरवशाली इतिहास को चुनौती दी है। इसलिए राज्य में हिंदू समाज इस फिल्म को प्रदर्शित नहीं होने देगा।

पद्मावती हिंदू समाज के स्वाभिमान की प्रतीक
राजावत ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि वे राज्य में हालात खराब हों, इससे पहले राजस्थान में फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगा दें। विधायक ने कहा कि राजस्थान की वीरता, पराक्रम और शौर्य के इतिहास को पढ़कर ही देश-विदेश के करीब 2 करोड़ पर्यटक हर साल राजस्थान आते हैं। रानी पद्मावती हिंदू समाज के स्वाभिमान की प्रतीक हैं।