राज्य सरकार कोटा में ट्रिपल आईटी के लिए लेगी आईएल की जमीन

0
48

कोटा।  शहर में ट्रिपल आईटी शुरू करने की प्रक्रिया तेज हो गई है। मंगलवार को जयपुर में मुख्य सचिव अशोक जैन की अध्यक्षता में बैठक हुई, जिसमें कलेक्टर रोहित गुप्ता ने शिरकत की।

इसमें कहा गया कि कोटा में क्लास अगले सत्र से शुरू करनी है। इसलिए इसके लिए जगह देखी जाए। अभी आईएल बंद हुई है। इसलिए वही उपयुक्त है। उसकी जमीन का अधिग्रहण किया जाए। इसकी जिम्मेदारी कलेक्टर को सौंपी गई।

कोटा में ट्रिपल आईटी खोलने की घोषणा करने के बाद जमीन का आवंटन भी हो गया, लेकिन उस पर बाउंड्रीवाल करके छोड़ दिया गया। चार साल से क्लास जयपुर में चल रही है।

पिछली बैठक में तय किया गया था कि ट्रिपल आईटी की क्लास कोटा में ही चालू की जाए। इसके लिए आईएल को सही माना था। मंगलवार को हुई बैठक में चीफ सेक्रेटरी ने कलेक्टर को जमीन के अधिग्रहण के लिए कहा। दीपावली के बाद से प्रक्रिया शुरू होगी।

जमीन अधिग्रहण प्रक्रिया के साथ ही जयपुर से ट्रिपल आईटी की एक टीम कोटा आकर जमीन का निरीक्षण करेगी। यह देखेगी की क्लासें कहां संचालित की जा सकती हैं। इसके बाद दिल्ली से टीम आकर निरीक्षण करेगी।

इस निरीक्षण के बाद ही यहां पर संसाधन बढ़ाए जाएंगे। प्रयास यही है कि अगले सत्र से ट्रिपल आईटी की क्लासें कोटा में ही चलें। ट्रिपल आईटी का आवंटन कोटा को आईआईटी की जगह हुआ था। ट्रिपल आई टी का एक बैच जयपुर एमएनआईटी से पास आउट हो चुका है।

अब तक रानपुर स्थित जमीन पर चारदीवारी और सिक्योरिटी गार्ड के रूम पर ही ढाई करोड़ रुपए का खर्चा हो गया था। इसका निर्माण करने वाले एजेंसी सीपीडब्ल्यूडी ने 100 करोड़ का रफ एस्टीमेट भेजा था, जो लंबे समय तक नहीं मिला।