जीएसटी से अर्थव्यवस्था में आया अस्थाई गतिरोध अब खत्म: एससी गर्ग

0
41

नई दिल्ली। आर्थिक मामलों के सचिव एससी गर्ग ने मंगलवार को कहा कि जीएसटी लागू होने के प्रभाव स्वरूप आर्थिक गतिविधियों में जो अस्थाई गतिरोध आया था वह अब समाप्त हो चला है। अगस्त में विनिर्माण क्षेत्र में 3.1 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई इससे इसका संकेत मिलता है।

औद्योगिक उत्पादन और थोक मूल्य सूचकांक के आंकड़ों पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा कि नरम और अनुकूल मुद्रास्फीति दर आज आम बात हो गई है। अगस्त माह में विनिर्माण क्षेत्र की वृद्धि दर 3.1 प्रतिशत रही।

इससे पहले दो माह के दौरान यह नकारात्मक बनी रही। जीएसटी लागू होने के चलते जून और जुलाई माह में विनिर्माण क्षेत्र में क्रमश: 0.5 प्रतिशत और 0.3 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई थी।

औद्योगिक क्षेत्र का कुल उत्पादन अगस्त माह में 4.3 प्रतिशत रहा है। औद्योगिक क्षेत्र के इस प्रदर्शन में खनन और ऊर्जा क्षेत्र का बेहतर प्रदर्शन का इसमें उल्लेखनीय योगदान रहा। पूंजीगत सामान का उत्पादन भी अधिक रहा।

उल्लेखनीय है कि देश की आर्थिक वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में तीन साल के सबसे निचले स्तर 5.7 प्रतिशत पर रही।

आर्थिक गतिविधियों की रफ्तार धीमी पड़ने के बावजूद रिजर्व बैंक ने हाल की अपनी नीतिगत समीक्षा में प्रमुख नीतिगत दर को 6 प्रतिशत पर यथावत रखा।