मुद्रा कोष के विकास दर अनुमान घटाने का शेयर बाजार पर असर नहीं

0
31

मुंबई। भले ही आईएमएफ ने भारत की इकॉनमिक ग्रोथ के अनुमान में 0.5 पर्सेंट की कमी कर दी है, लेकिन शेयर बाजार पर इसका कोई असर नहीं दिखा है।

बुधवार को सेंसेक्स 100 अंकों की उछाल के साथ 32,021 के स्तर पर खुला, वहीं निफ्टी भी 10,050 के मनोवैज्ञानिक स्तर के करीब पहुंच गया। हालांकि रुपये में डॉलर के मुकाबले 10 पैसे की गिरावट दिखी है और फिलहाल यह 65.26 के स्तर पर कारोबार कर रहा है।

आईएमएफ के अनुमानों के बाद भी बाजार में यह तेजी उत्साहजनक संकेत कही जा सकती है। हालांकि यह फेस्टिव सीजन के चलते भी हो सकता है।

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने भारत की अर्थव्यवस्था की रफ्तार का अनुमान वित्त वर्ष 2018 में 6.7 प्रतिशत रखा है, यह पहले 7.2 प्रतिशत था। वित्त वर्ष 2019 में भी भारत की जीडीपी का अनुमान 7.7 प्रतिशत से घटाकर 7.2 प्रतिशत कर दिया है।