उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण के बाद सोना वर्ष के उच्चतम स्तर पर

0
21

कोरिया प्रायद्वीप में परमाणु हथियारों को लेकर संकट की स्थिति जारी रहती है तो गोल्ड प्राइसेज में और तेजी आ सकती है और ये 1,360 डॉलर प्रति आउंस तक पहुंच सकते हैं

नई दिल्ली। उत्तर कोरिया के अपना सबसे शक्तिशाली परमाणु परीक्षण करने के बाद दुनिया भर में चिंता के माहौल के कारण गोल्ड प्राइसेज सोमवार को 200 रुपये चढ़कर 30,600 रुपये प्रति 10 ग्राम के साथ वर्ष के उच्चतम स्तर पर पहुंच गए। इसके साथ ही लोकल ज्वैलर्स की ओर से खरीदारी बढ़ने के कारण भी कीमतों में तेजी आई है।

इंडस्ट्रियल यूनिट्स और कॉइन मेकर्स से अधिक खरीदारी करने के कारण सिल्वर में भी तेजी आई और यह 200 रुपये बढ़कर 41,700 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई।

बुलियन ट्रेडर्स ने बताया कि विदेश में भी गोल्ड प्राइसेज में तेजी आई है। इसकी वजह उत्तर कोरिया का हाल का परमाणु परीक्षण है जिससे इनवेस्टर्स सुरक्षित माने जाने वाले एसेट्स में रकम लगा रहे हैं।

सिंगापुर में गोल्ड 0.71 पर्सेंट की तेजी के साथ 1,333.80 डॉलर प्रति आउंस पर रहा। दिल्ली में 99.9 और 99.5 पर्सेंट प्योरिटी वाला गोल्ड 200 रुपये की तेजी के साथ क्रमश: 30,600 रुपये और 30,450 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। पिछले दो सत्रों में गोल्ड में लगभग 350 रुपये की तेजी आई है।

सिल्वर के हाजिर दाम 200 रुपये चढ़कर 41,700 रुपये प्रति किलोग्राम पर साप्ताहिक डिलीवरी वाली सिल्वर 540 रुपये बढ़कर 40,560 रुपये प्रति किलोग्राम पर रही। हालांकि, सिल्वर कॉइन की कीमतों में कोई बदलाव नहीं आया। इनकी कीमत खरीदारी के लिए 74,000 रुपये और बिक्री के लिए 75,000 रुपये प्रति 100 कॉइन रही।

एंजेल ब्रोकिंग के चीफ एनालिस्ट (नॉन-एग्री कमोडिटीज और करेंसीज), प्रथमेश माल्या ने बताया, ‘जुलाई से गोल्ड प्राइसेज में 10 पर्सेंट से अधिक की तेजी आई है। मौजूदा रैली का कारण उत्तर कोरिया का परमाणु परीक्षण है जिससे पूरी दुनिया खतरा महसूस कर रही है।

अगर कोरिया प्रायद्वीप में परमाणु हथियारों को लेकर संकट की स्थिति जारी रहती है तो गोल्ड प्राइसेज में और तेजी आ सकती है और ये 1,360 डॉलर प्रति आउंस तक पहुंच सकते हैं।’