घर में आई नई बहू की तरह है GST – अर्जुन राम

0
23

नई दिल्ली। केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने गुडस एंड सर्विस टैक्स की तुलना घर में आई उस नई बहू के साथ की है, जिसे घर के अन्य सदस्यों के साथ सामंजस्य बैठाने में वक्त लगता है। जीएसटी अभी एक नया कानून है जिसे सरकार ने देश की तरक्की के लिए लागू किया है। 

रियल इस्टेट सेक्टर के लिए NAREDCO की तरफ से आयोजित एक समारोह में बोलते हुए मेघवाल ने कहा कि ‘अभी इस कानून को समझने में थोड़ा वक्त लगेगा, लेकिन थोड़े समय के बाद यह सभी लोगों को समझने में आने लगेगा। जीएसटी देश के लिए नया पुल है इसे हम इसलिए लाए हैं कि देश सही दिशा में बढ़े।’

GST से खत्म हुए 17 टैक्स और कई सेस
मेघवाल ने कहा कि जीएसटी के लागू होने के बाद से देश में करीब 17 प्रकार के इन डायरेक्ट टैक्स और कई सेस खत्म हो गए हैं। उन्होंने रियल इस्टेट सेक्टर में काम कर रहे बिल्डरों से कहा कि अगर उन्हें जीएसटी के लागू होने के बाद से किसी तरह की दिक्कत आ रही है तो फिर वो सीधे सरकार से बातचीत करें।

जीएसटी से इस सेक्टर को फायदा मिलेगा और रियल इस्टेट सेक्टर के टैक्स संबंधी चिंताओं को वो जीएसटी काउंसिल में उठाएंगे। देश 2017 को बड़े आर्थिक सुधारों के लिए याद रखेगा और उसके बाद भी सरकार कई सारे कदम उठा रही है, जो लोगों को काफी सहुलियत दे रहे हैं।