देश का विदेशी मुद्रा भंडार रिकार्ड स्तर पर

0
50

नई दिल्ली । देश के विदेशी मुद्रा भंडार (फॉरेक्स रिजर्व) में 163.8 मिलियन डॉलर का इजाफा हुआ है। इस इजाफे से साथ फॉरेक्स रिजर्व ने 11 अगस्त को समाप्त हुए सप्ताह में 393.612 बिलियन डॉलर का नया उच्चतम स्तर छू लिया है। आरबीआई की ओर से जारी किए गए डेटा के मुताबिक ऐसा विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों (एफसीए) में वृद्धि के कारण हुआ है।

बीते सप्ताह फॉरेक्स रिजर्व 581.1 मिलियन अमेरिकी डॉलर बढ़कर 393.448 बिलियन के स्तर पर पहुंच गया था। फॉरेक्स रिजर्व में विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों (एफसीए) की बड़ी भूमिका होती है और डेटा के मुकाबिक 175.6 मिलियन डॉलर के इजाफे के साथ 369.899 बिलियन डॉलर के स्तर पर पहुंच गई हैं।

अगर अमेरिकी डॉलर के टर्म में बात करें तो एफसीए में गैर-अमेरिकी मुद्राओं जैसे कि यूरो, पौंड और येन की मूल्यवृद्धि और मूल्यह्रास के प्रभाव को शामिल किया जाता है। हालांकि गोल्ड रिजर्व 19.943 बिलियन डॉलर के स्तर पर बरकरार रहा है।

वहीं आईएमएफ का विशेष निकासी अधिकार (स्पेशल ड्राइंग राइट) 5.8 मिलियन डॉलर गिरकर 1.498 बिलियन डॉलर के स्तर पर आ गया। शीर्ष बैंक ने कहा कि वहीं आईएमएफ के साथ देश की रिजर्व की स्थिति भी 6 मिलियन अमेरिकी डॉलर की गिरावट के साथ 2.271 बिलियन डॉलर पर पहुंच गई है।