यूजर्स के डाटा चोरी : मोबाइल निर्माता कंपनियों को नोटिस

0
37

नई दिल्ली । सरकार ने कुल 21 मोबाइल निर्माता कंपनियों को नोटिस भेजा है। इसकी मुख्य वजह मोबाइल निर्माता कंपनियों के स्तर पर यूजर्स की जानकारी चोरी होने का खतरा है।

सरकार ने जिन कंपनियों को नोटिस भेजा है कि उनमें चीन की मोबाइल निर्माता कंपनी वीवो, ओप्पो, शाओमी और जियोनी शामिल हैं। सरकार को यह डर है कि मोबाइल निर्माता कंपनियों के स्तर पर यूजर्स की जानकारी को हैक किया जा रहा है।

यह खतरा ज्यादातर चाइनीज कंपनियों के साथ है। सरकार का यह मानना है कि यूजर्स की निजी जानकारी को मोबाइल निर्माता कंपनियां कॉन्टैक्ट लिस्ट और मैसेज के जरिए चुरा रही हैं। इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की ओर से जिन 21 मोबाइल निर्माता कंपनियों को नोटिस भेजा गया है।

उनमें चाइनीज कंपनियों के अलावा एप्पल, सैमसंग और माइक्रोमैक्स जैसी कंपनियां भी शामिल हैं। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी कि कंपनियों को सभी सुरक्षा संबंधी शर्तों का अनुपालन करने के लिए 28 अगस्त तक का समय दिया गया है।

इसके बाद सुरक्षा संबंधी नियमों का अनुपालन हुआ या नहीं यह सुनिश्चित करने के लिए सरकार की ओर से ऑडिट किया जा सकता है। अधिकारी ने यह भी जानकारी दी कि अगर इस ऑडिट में कंपनियां नियमों का उल्लघंन करती पायी गईं तो उन पर पेनल्टी लगाई जाएगी।

इससे पहले सरकार की ओर से डाटा लीक और सुरक्षा संबंधी चिताओं के मद्देनजर चीन से भारी मात्रा में आयात होने वाले इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी उत्पादों की समीक्षा शुरू की गई। सरकार की ओर से ये सभी कदम ऐसे समय में उठाए जा रहे हैं जब भारत और चीन के बीच डोकलाम मुद्दे पर सीमा विवाद चल रहा है।