अप्रैल-मई में 354.77 करोड़ रुपए का विदेशी प्रत्यक्ष निवेश

0
25

नई दिल्ली । भारत के कृषि क्षेत्र को इस वर्ष अप्रैल से मई के दौरान 354.77 करोड़ रुपये का विदेशी प्रत्यक्ष निवेश प्राप्त हुआ है। यह जानकारी मंगलवार को संसद में दी गई है। लोक सभा में कृषि राज्यमंत्री एस एस अहलूवालिया ने यह डेटा दिया है।

डेटा के मुताबिक भारत को वित्त वर्ष 2016-17 में कुल 515.49 करोड़ विदेशी प्रत्यक्ष निवेश प्राप्त हुआ है। यह आंकड़ा बीते वर्ष 553.14 करोड़ था। अहलूवालिया ने एक लिखित जवाब में बताया कि वर्ष 2014-15 में कृषि क्षेत्र में 365.31 करोड़ एफडीआई था।

साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि कई किसानों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रुप से कृषि क्षेत्र में प्राप्त एफडीआई से फायदा हुआ है।FDI में आया 23 फीसद का रहा।

अप्रैल-मई महीने के दौरान बढ़कर 10 बिलियन डॉलर हुआ चालू वित्त वर्ष की अप्रैल से मई अवधि के दौरान विदेशी प्रत्यक्ष निवेश (एफडीआई) 23 फीसद बढ़कर 10.02 अरब डॉलर पर पहुंच गया।

यह जानकारी सोमवार को संसद में दी गई। वहीं साल 2016-17 के दौरान एग्रीगेट फॉरेन फंड इन्फ्लो 60.08 बिलियन के स्तर पर पहुंच गया। वाणिज्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने यह जानकारी लोकसभा में एक लिखित उत्तर के जरिए दी।
उन्होंने कहा कि एफडीआई को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने एक निवेशक अनुकूल नीति बनाई है।

उन्होंने आगे कहा, “अगर कुछ निगेटिव लिस्ट को छोड़ दिया जाए तो अधिकांश सेक्टर ऑटोमेटिक रूट के जरिए 100 फीसद एफडीआई के लिए ओपन हैं।”

मंत्री ने यह भी कहा कि विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) को खत्म करने के बाद शर्तों के अनुपालन की निगरानी का कार्य (ऐसे पूर्व मामले भी जिन्हें एफआईपीबी की ओर से अनुमोदित किया गया है) का काम संबंधित प्रशासकीय मंत्रालय को सौंपा गया है।