राजस्थान बनेगा हायर एजुकेशन हब

0
59

जयपुर। मुख्यमंत्री  वसुंधरा राजे की पहल पर देश में पहली बार आयोजित हुए दो दिवसीय फेस्टिवल ऑफ एजुकेशन से राजस्थान को शिक्षा क्षेत्र में बहुत सी सौगातें मिली है।  फेस्टिवल में आये ब्रिटिश कौंसिल के प्रतिनिधियों ने राज्य के शैक्षिक विकास में सहयोग देने की बात कही।

फेस्टिवल ऑफ एजुकेशन से राजस्थान को शिक्षा क्षेत्र में मिली बहुत सी सौगातें

ब्रिटिश कौंसिल राजस्थान को हायर एजुकेशन  हब के रूप में स्थापित करने में साझेदारी करेगी। ब्रिटिश कौंसिल राजस्थान में इंग्लिश स्पोकन में सहयोग के लिए भी कार्य करेगी।

इस फेस्टिवल में सम्मिलत होने आये श्री भरत ठाकुर ने जहां राजस्थान में योग विश्वविद्यालय की स्थापना में सहयोग देने की मंशा जताई है,

इस उत्सव से ही राज्य में पहली शंकर महादेवन म्यूजिक अकादमी की स्थापना की भी राह खुली है। यूएई के संस्कृति एवं ज्ञान विकास मंत्रालय से राजस्थान में शिक्षा क्षेत्र में बहुत से स्तरों पर साझेदारी और सहयोग पर भी फेस्टिवल में सहमति बनी है। इसके अलावा अक्षय कुमार ने भी प्रदेश में विद्यालयों में हाइजीन और सेनिटेशन के लिए सहयोग करने का विश्वास दिलाया है।

तकनीकी शिक्षा के अंतर्गत साउथर्न यूनिवर्सिटी, यूके ने राजस्थान के रिमोट क्षेत्रों में वाई फाई की सुविधा प्रदान करने और कुछ महत्वपूर्ण सामाजिक क्षेत्रों में सहयोग प्रदान करने को भी कहा है। फेस्टिवल में लांच किये गए ज्ञान संकल्प पोर्टल और मुख्यमंत्री विद्यादान कोष में 5 करोड़ की राशि का अभूतपूर्व सहयोग प्राप्त हुआ है।

आगामी फेस्टिवल ऑफ एजूकेशन उदयपुर में
आगामी फेस्टिवल ऑफ एजूकेशन अगले वर्ष 2018 में उदयपुर में आयोजित किया जायेगा। शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी ने फेस्टिवल ऑफ एजूकेशन के विभिन्न सत्रों में हुये संवाद में अन्य देशों से आये प्रतिभागियों जनप्रतिनिधियों, शिक्षाविदों एवं गणमान्य जनों का आभार जताते हुए कहा कि इस उत्सव के दूरगामी परिणाम आयेंगे।