दूसरी तिमाही में सोने के मांग 37 फीसद बढ़ी

0
43

नई दिल्ली । साल 2017 की दूसरी तिमाही के दौरान सोने की मांग में 37 फीसद का उछाल देखने को मिला है। इस उछाल के साथ यह 167.4 टन के स्तर पर पहुंच गया। त्यौहारी सीजन और ग्रामीण मांग के चलते यह तेजी देखने कोमिली है। यह जानकारी वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल की एक रिपोर्ट के जरिए सामने आई है।

वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल ने अपनी नवीनतम गोल्ड डिमांड ट्रेंड्स रिपोर्ट में बताया कि अप्रैल से जून के दौरान मांग 122.1 टन रही थी। वहीं वैल्यू टर्म में बात करें तो मांग 32 फीसद चढ़कर 43,600 करोड़ हो गई, जबकि साल 2016 की दूसरी तिमाही के दौरान यह 33,090 करोड़ रुपए रही थी।

काउंसिल के प्रबंध निदेशक सोमासुंदरम पीआर ने बताया कि हालांकि, दूसरी तिमाही की मांग पांच साल के औसत से कम है और यह मुख्य रुप से वस्तु एवं सेवा कर से प्रेरित है जिसने तिमाही के अंत में खरीददारी को बढ़ाया है।

उन्होंने कहा कि साल 2016 की दूसरी तिमाही में 1 फीसद एक्साइज ड्यूटी के विरोध में ज्वैलर्स की हड़ताल ने सोने की मांग पर असर डाला था। दूसरी तिमाही के दौरान भारत में सोने की कुल मांग इस साल 41 फीसद उछलकर 126.7 टन पर पहुंच गई थी जबकि बीते वर्ष की समान अवधि के दौरान यह आंकड़ा 89.8 टन रहा था।

वहीं वैल्यू के टर्म में ज्वैलरी की डिमांड में 36 फीसद का उछाल (33,000 करोड़ रुपए) देखने को मिला जो कि साल 2016 की समान अवधि में 24,350 करोड़ रुपए की रही थी।