निफ्टी पहली बार 10 हजार के पार बंद , सेंसेक्स 32400 के स्तर पर

0
40

बुधवार के कारोबार में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने एक बार फिर मार्केट को संभाला है।

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में बुधवार को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का 50 शेयरों वाला इंडेक्स निफ्टी पहली बार 10 हजार के पार जाकर के बंद हुआ। इसके साथ ही बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स भी पहली बार 32400 के स्तर पर बंद हुआ।

सेंसेक्स में 154 अंकों की बढ़ोतरी देखने को मिली, वहीं निफ्टी 10021 के स्तर पर बंद हुआ। हालांकि यह दिन भर की ट्रेडिंग में 10026 के स्तर पर पहुंच गया था। 

आज के कारोबार में दिग्गज शेयरों में यस बैंक, वेदांता, इंडसइंड बैंक, सन फार्मा, टाटा स्टील, आईसीआईसीआई बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा और सिप्ला 5.8-1.8 फीसदी तक बढ़कर बंद हुए हैं।

हालांकि दिग्गज शेयरों में एक्सिस बैंक, जी एंटरटेनमेंट, एशियन पेंट्स, एसीसी, अंबुजा सीमेंट, बीएचईएल, टीसीएस और भारती एयरटेल 3-0.3 फीसदी तक गिरकर बंद हुए हैं। बुधवार के कारोबार में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने एक बार फिर मार्केट को संभाला है। स्टॉक आज 1629.95 के नए रिकॉर्ड हाई पर पहुंच गया।

निफ्टी के 21 साल का सफर

  • निफ्टी ने वर्ष 1996 में 1000 के स्तर से शुरुआत की थी। बीते 21 वर्षों में निफ्टी 1000 से 10,000 तक पहुंच गया है-
  • वर्ष 1996- निफ्टी 1000 की बेस वेल्यू के साथ लॉन्च हुआ
  • वर्ष 2004- करीब आठ वर्ष बाद 2 दिसंबर को निफ्टी ने 2000 का स्तर छुआ। साथ ही निवेशकों की राशि भी दो गुना कर दी गई
  • वर्ष 2006- निफ्टी ने 30 जनवरी, 2006 को 3000 का आकड़ा छुआ
  • दिसंबर 2006- निफ्टी ने लॉन्च होने के एक दशक बाद एक दिसंबर, 2006 को 3000 से 4000 के स्तर पर पहुंच गया
  • वर्ष 2007- निफ्टी ने महज 10 महीनों में 27 सितंबर, 2007 को 5000 का स्तर छुआ
  • दिसंबर, 2007- निफ्टी ने 11 दिसंबर, 2007 को 6000 का स्तर छुआ। मात्र तीन महीनों में निफ्टी 5000 से 6000 के स्तर पर पहुंच गया।
  • वर्ष 2014- साल 2007 के बाद निफ्टी ने अगली 1000 अंक की छलांग पूरे सात वर्षों के बाद लगाई। इस साल देश में लोकसभा चुनाव में बीजेपी की जीत की संभावनाओं के चलते यह तेजी देखने को मिली थी।
  • सितंबर, 2014- लोकसभा चुनाव में बीजेपी के जीतने के बाद कई इकोनॉमिक रिफॉर्म्स देखने को मिले। इसके चलते एक
  • सितंबर, 2014 को निफ्टी ने 8000 के स्तर को छुआ।
  • वर्ष 2017- निफ्टी को 8000 से 9000 तक आने में तीन वर्षों का समय लगा। 14 मार्च, 2017 को विदेशी निवेशकों की ओर से की गई भारी खरीदारी के चलते निफ्टी ने 9000 का स्तर छुआ
  • 25 जुलाई, 2017- सरकार के इकोनॉमिक रिफॉर्म्स, जीएसटी व्यवस्था और कंपनियों की ओर से जारी किए गए वित्त वर्ष 2018 की पहली तिमाही के नतीजों के चलते निफ्टी ने 10,000 का स्तर छुआ।