तिमाही नतीजे तय करेंगे शेयर बाजार की दिशा

0
54

रिलायंस इंडस्ट्रीज, बजाज ऑटो, एसीसी, अल्ट्राटेक सीमेंट, विप्रो और कोटक जैसी वजनदार कंपनियां तिमाही नतीजे घोषित करेंगी।

नई दिल्ली । रिलायंस और विप्रो जैसी ब्लूचिप कंपनियों के तिमाही नतीजे इस हफ्ते शेयर बाजार की दिशा तय करेंगे। सोमवार से शुरू हो रहे संसद के मानसून सत्र पर भी निवेशकों की नजर रहेगी। विशेषज्ञों ने यह राय जताई है।

आम्रपाली आद्या ट्रेडिंग एंड इंवेस्टमेंट्स के डायरेक्टर व रिसर्च हेड अबनीश कुमार सुधांशु ने कहा कि इस हफ्ते बाजार की चाल कंपनियों के तिमाही परिणामों से निर्धारित होगी। तिमाही नतीजों के मौसम में खास स्टॉकों में उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है।

ट्रेड स्मार्ट ऑनलाइन के संस्थापक-निदेशक विजय सिंघानिया बोले कि इस सप्ताह कोई महत्वपूर्ण आर्थिक डाटा नहीं आना है। जबकि इस दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज, बजाज ऑटो, एसीसी, अल्ट्राटेक सीमेंट, विप्रो और कोटक जैसी वजनदार कंपनियां तिमाही नतीजे घोषित करेंगी।

इन पर निवेशकों का फोकस रहेगा। मानसून सत्र 17 जुलाई से शुरू हो चुका है। राष्ट्रपति चुनाव के लिए भी यही तारीख निर्धारित है। सैमको सिक्योरिटीज के सीईओ जिमित मोदी के मुताबिक, नतीजों के तुरंत बाद बाजार में अस्थिरता आने की आशंका है।

कोटक म्यूचुअल फंड के सीआइओ (इक्विटी) हर्ष उपाध्याय ने कहा कि अभी तक की मानसून की प्रगति सामान्य से बेहतर रही है। यह ग्रामीण उन्मुख कारोबारों के लिए अच्छा है। खुदरा महंगाई की दर में गिरावट ने नीतिगत ब्याज दरों में कटौती की गुंजाइश बढ़ा दी है। इससे बाजार की कारोबारी धारणा को बल मिलेगा।

साप्ताहिक आधार पर बीते हफ्ते दोनों प्रमुख सूचकांकों- सेंसेक्स और निफ्टी में तेजी आई। इस दौरान बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स 660.12 अंक यानी 2.10 फीसद चढ़ा। जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 220.55 अंक यानी 2.28 फीसद मजबूत हुआ।

इस तेजी में देश की दस सबसे मूल्यवान कंपनियों में से नौ का कुल बाजार पूंजीकरण (एम-कैप) 67,754.53 करोड़ रुपये बढ़ा। रिलायंस इंडस्ट्रीज और टीसीएस को सबसे ज्यादा फायदा हुआ। दस कंपनियों में ओएनजीसी नुकसान उठाने वाली एकमात्र रही।