कोटा में खुलेंगे दस जीएसटी सुविधा केंद्र- केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री मेघवाल ने कहा

1
151

केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री मेघवाल से कपडा व्यापारियों को आश्वासन मिलने के बाद 15 दिन से बंद कोटा का कपडा बाजार शनिवार से खुल गया।

कोटा।. केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने कहा कि जीएसटी को लेकर किसी व्यापारी को परशान होने की जरूरत नहीं। शुरू में दिक्कतें आएंगी, लेकिन कुछ समय में सब कुछ ठीक हो जाएगा। इसके लिए कोटा में 10 जीएसटी सुविधा केंद्र खोले जाएंगे। 

केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री मेघवाल शनिवार को केन्द्रीय राजस्व भवन के सभा कक्ष में जीएसटी से संबंधित केन्द्र एवं राज्य के अधिकारियों की बैठक ले रहे थे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि जीएसटी केंद्र सुबह 10 से 5 बजे तक चलेंगे। इसके लिए तकनीकी कर्मचारी हम देंगे। इससे अधिक भी खोलने हो तो बता देना हम ज्यादा भी खोल देंगे।

उन्होंने कहा कि जीएसटी से किसी को परेशानी नहीं हो इसके लिए पूरे देश में समीक्षा की जा रही है। 40 मंत्री लगातार लोगों व्यापारियों से मिल रहे हैं। कोटा में भी बिनोला खल, कोटा स्टोन, सैंड स्टोन, कोचिंग, कपड़ा और अन्य मुद्दों पर व्यापारी और अधिकारियों से बात की गई है। कपड़ा व्यापारियों ने आंदोलन खत्म करने की बात कही है। 

कोटा स्टोन के स्लैब वाले मसले पर चर्चा कर लोकल लेवल पर निपटा लिया जाएगा। कोचिंग पर भी बात की जाएगी। खादी पर टैक्स लगाने को लेकर जीएसटी काउंसिल चर्चा कर रही है। इससे सबको फायदा ही होने वाला है, किसी को कोई नुकसान नहीं होगा। कोई विसंगति है तो उसे दूर किया जाएगा।

केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल को ज्ञापन सौंपते कपडा व्यापारी।

मंत्री के आश्वासन के बाद कपड़ा कारोबारियों ने तोड़ा आंदोलन
राजस्थान कपड़ा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष गिर्राज न्याती के नेतृत्व में व्यापारी केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अर्जुनराम मेघवाल से मिले। मंत्री के आश्वासन के बाद कपड़ा कारोबारियों नेेे आंदोलन समाप्त कर बाजार खोल दिए।

न्याती ने मंत्री अर्जुनराम मेघवाल को बताया कि 70 साल से कोई टैक्स नहीं था। व्यापारी टैक्स के भी खिलाफ नहीं थे, लेकिन इसमें समय नहीं दिया गया। लंबा समय देते तो व्यापारी तैयार होते। पूरे देश में आंदोलन चल रहा है।

व्यापार महासंघ के अध्यक्ष क्रांति जैन ने कहा कि कोटा में 15 दिन से कारोबार बंद करके बैठे हैं, ऐसे में आश्वासन मिल जाए तो वे आंदोलन यहीं खत्म कर सकते हैं। इस पर मंत्री ने कहा कि मैं खुद आश्वासन दे रहा हूं। उनके लिए कोई अच्छा रास्ता निकालेंगे। इसके बाद न्याती ने उनके सामने ही बाजार खोलने का ऐलान किया।

कोटा स्टोन पर टैक्स क्लियर नहीं
हाड़ौती कोटा स्टोन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के महासचिव मुकेश त्यागी के नेतृत्व में व्यापारियों ने मंत्री से कहा कि अभी तक कोटा स्टोन पर जीएसटी तय नहीं हो पाया है। हम 5 फीसदी का बिल बनाकर काम करने लगे हैं, लेकिन ट्रकों को आगे रोका जा रहा है। 

कोटा पेट्रोलियम डीलर एसोसिएशन के अध्यक्ष तरुमीत सिंह बेदी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल मिला। इसमें कहा गया कि पेट्रोलियम पदार्थ को मुक्त है, लेकिन लुबरीकेंट ऑयल को जीएसटी में शामिल किया गया है। सचिव अशोक गुप्ता ने कहा कि इससे देश में 56 हजार पेट्रोल पंप वालों पर असर पड़ेगा।

खल -चूरी एसोसिएशन के दीपक गुप्ता ने कहा कि बिनौला की खल सीधे पशु्ओं के लिए ही जाती है। ऐसे में इस पर 5 फीसदी टैक्स लगाना गलत है।