घरेलू हवाई यात्रा में भी दिखाना पड़ेगा पासपोर्ट या आधार

0
3
-दिनेश माहेश्वरी
नई दिल्ली। अगले दो-तीन महीनों बाद घरेलू हवाई यात्रा के दौरान भी आपसे पासपोर्ट या आधार कार्ड दिखाने को कहा जाए तो हैरान होने की जरूरत नहीं है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, मौजूदा वक्त में यात्रियों की पहचान बेहद जरूरी हो गई है। मंत्रालय जल्द ही एक ‘नो फ्लाई’ लिस्ट लाने वाली है, जिसमें चार तरह के अपराधों के हिसाब से कार्रवाई तय होगी।
हर तरह के अपराध के लिए अलग-अलग समयावधि का हवाई यात्रा बैन होगा। सूत्रों के मुताबिक, ‘इसे लागू करने के लिए हमें ऐसी व्यवस्था करनी होगी, जिससे यात्रियों की पहचान हो सके। यह तभी संभव होगा जब यात्रियों से बुकिंग के वक्त पासपोर्ट या आधार मांगा जाए। इन दोनों में से किसी एक दस्तावेज को चुना जाएगा।’
मंत्रालय अगले हफ्ते तक ड्राफ्ट नियम आम पब्लिक के सामने लाएगी। पब्लिक के पास कोई सुझाव देने का 30 दिन का वक्त होगा। एक विश्वस्त सूत्र के मुताबिक, ‘जून या जुलाई तक हम इस नए नियम को पूरी तरह लागू कर देंगे।’
केंद्रीय नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा काफी पहले से इस नो फ्लाई लिस्ट पर काम कर रहे हैं। मगर रविंद्र गायकवाड़ मामले के बाद इसकी बेहद जरूरत महसूस होने लगी है।
इसे लागू करने में कोई खास दिक्कत भी नहीं आएगी। अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए पहले से ही पासपोर्ट मांगा जाता है। सरकार को बस इसी नियम को घरेलू उड़ानों के लिए भी लागू करना होगा। सरकार जहां एक ओर नो फ्लाई लिस्ट में अपराध और उनके हिसाब से हवाई बैन तय कर रही है, वहीं कई एयरलाइन्स कंपनियों ने बुरा बर्ताव करने वाले यात्रियों की पहचान करना शुरू कर दिया है।