फ्लाइट में इंटरनेट के इस्तेमाल की इजाजत जल्द ही

0
20

मुंबई। भारत में हवाई सफर के दौरान फ्लाइट में सुरक्षा कारणों से इंटरनेट के इस्तेमाल इजाजत नहीं होती है, पर हो सकता है कि बहुत जल्द यात्री फ्लाइट के अंदर इंटरनेट का आनंद लेते नजर आएं। संभावना जताई जा रही है कि केंद्र सरकार अगस्त के आखिर तक इसकी इजाजत दे सकती है।

डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) के संयुक्त डीजी ललित गुप्ता ने कहा, ‘हम टेलिकम्यूनिकेशन्ज़ डिपार्टमेंट की मंजूरी का इंतजार कर रहे हैं। कई अंतरराष्ट्रीय एयरलाइंस एविएशन मिनिस्ट्री से बात कर रही हैं। फिलहाल भारतीय एयरस्पेस में वाई-फाई को स्विच ऑफ करना पड़ता है क्योंकि सुरक्षा कारणों से फ्लाइट में इंटरनेट के इस्तेमाल की इजाजत नहीं है।’

गुप्ता ने कहा कि जेट एयरवेज और स्पाइसजेट जैसी भारतीय विमान कंपनियों के पास भी 2018 तक वाई-फाई की सुविधा से लैस बोइंग 737 MAX विमान होंगे।  दुनियाभर में 70 एयरलाइंस हवाई सफर के दौरान यात्रियों को फ्लाइट के अंदर इंटरनेट इस्तेमाल की इजाजत देती हैं। इस दौरान यात्री ईमेल, लाइवस्ट्रीमिंग और सोशल मीडिया का इस्तेमाल तो कर ही सकते हैं, साथ ही उन्हें फिल्में डाउनलोड करने और यहां तक कि कॉल करने की भी इजाजत होती है।

इनमें ऐसी विमान कंपनियां भी शामिल हैं जिनकी उड़ानें भारत भी आती हैं। जैसे एयर फ्रांस, ब्रिटिश एयरवेज, सिंगापुर एयरलाइंस और एतिहाद एयरवेज। भारत की बात करें तो जेट एयरवेज और विस्तारा एयरलाइंस में यात्रियों को इंटरनेट का इस्तेमाल किए बिना ऐसा कॉन्टेंट उपलब्ध कराया जाता है जिसे वे अपनी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में डाउनलोड कर सकते हैं। स्पाइसजेट भी यह सुविधा जून के अंत तक देना शुरू कर देगा।