वैश्विक तेजी से सेंसेक्स 191 अंक मजबूत, निफ्टी 10740 पर बंद

0
5

नई दिल्ली। दुनियाभर के बाजारों से मिले पॉजिटिव संकेतों, अच्छे नतीजों और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा एक्सटर्नल कमर्शियल बॉरोइंग पॉलिसी को आसान किए जाने से घरेलू शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ। कारोबार के इंत में सेंसेक्स 191 अंक मजबूत होकर 35160 के स्तर पर बंद हुआ।

वहीं निफ्टी भी 50 अंकों की तेजी के साथ 10740 के स्तर पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान निफ्टी पर 11 में से सभी 11 इंडेक्स हरे निशान में बंद हुए। आईटी और पीएसयू बैंक शेयरों में तेजी रही। वहीं, आरआईएल के स्टॉक में 3 फीसदी तक गिरावट रही।

RIL में 3.5% तक गिरावट
तिमाही नतीजों के बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में 3.5 फीसदी तक गिरावट है। शुक्रवार को आरआईएल ने मार्केट ऑवर के बाद फाइनेंशियल ईयर 2018 की चौथी तिमाही नतीजे पेश किए थे, जिसके अनुसार कंपनी की फाइनेंस कास्ट बढ़कर 2566 करोड़ रुपए हो गई है, जो फाइनेंशियल ईयर 2017 की चौथी तिमाही में 556 करोड़ रुपए थी।

इसी का असर सोमवार के कारोबार में शेयर के प्रदर्शन पर पड़ रहा है। फाइनेंशियल ईयर 2018 की तीसरी तिमाही में कंपनी की फाइनेंस कास्ट 2100 करोड़ रुपए रही थी। इन शेयरों में तेजी, इनमें गिरावटनई दिल्ली. दुनियाभर के बाजारों से मिले पॉजिटिव संकेतों, अच्दे नतीजों और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा एक्सटर्नल कमर्शियल बॉरोइंग पॉलिसी को आसान किए जाने से घरेलू शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ।

कारोबार के इंत में सेंसेक्स 191 अंक मजबूत होकर 35160 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी भी 50 अंकों की तेजी के साथ 10740 के स्तर पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान निफ्टी पर 11 में से सभी 11 इंडेक्स हरे निशान में बंद हुए। आईटी और पीएसयू बैंक शेयरों में तेजी रही। वहीं, आरआईएल के स्टॉक में 3 फीसदी तक गिरावट रही।

इन शेयरों में तेजी, इनमें गिरावट
कारोबार के दौरान एसबीआई, एचडीएफॅसी, टीसीएस, विप्रो और एचसीएल टेक के शेयरों में 1.53 से 3.45 फीसदी तक तेजी रही। वहीं, आरआईएल, एक्सिस बैंक, गेल, कोल इंडिया और ओएनजीसी के शेयरों में 0.61 से 3.84 फीसदी तक गिरावट रही।

आईटी इंडेक्स सबसे ज्यादा बढ़ा
कारोबार के दौरान आईटी और बैंक शेयरों में अच्छी खरीददारी दिखी। निफ्टी पर आईटी इंडेक्स में 1.39 फीसदी की तेजी के साथ बंद हुआ। वहीं, बैंक निफ्टी में 0.54 फीसदी, पीएसयू बैंक इंडेक्स में 1.73 फीसदी और प्राइवेट बैंक इंडेक्स में 0.23 फीसदी की तेजी रही है। रियल्टी इंडेक्स में 1.58 फीसदी और ऑटो इंडेक्स में 0.38 फीसदी की तेजी रही है। वहीं, मेटल इंडेक्स भी 0.29 फीसदी बढ़त के साथ बंद हुआ।

HDFC लिमिटेड का मुनाफा बढ़ा
फाइनेंशियल ईयर 2018 की चौथी तिमाही में HDFC लिमिटेड का मुनाफा 39 फीसदी बढ़ गया है। इस दौरान कंपनी को 2846 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। जबकि फाइनेंशियल ईयर 2017 की चौथी तिमाही में एचडीएफसी को 2044 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था। कंपनी ने 16.50 रुपए प्रति शेयर डिविडेंड का ऐलान किया है।

कोटक बैंक को 1789 करोड़ का मुनाफा
फाइनेंशियल ईयर 2018 की चौथी तिमाही में कोटक महिंद्रा बैंक को कंसोलिडेटेड आधार पर 1789 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। इस दौरान बैंक का मुनाफा 27.4 फीसदी बढ़ गया है। फाइनेंशियल ईयर 2017 की चौथी तिमाही में बैंक को 1404 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था।

बेहतर ग्लोबल सेंटीमेंट का दिखा असर
नए डाटा के अनुसार अमेरिकी इकोनॉमी पहली तिमाही में अनुमान से ज्यादा बढ़ी है। अनुमान था कि इकोनॉमी में 2 फीसदी ग्रोथ देखने को मिलेगी लेकिन पहली तिमाही में अमेरिका की जीडीपी 2.3 फीसदी बढ़ी है।

नॉर्थ-साउथ कोरिया में टेंशन कुछ कम होने से भी मार्केट को लेकर पॉजिटिव सेंटीमेंट बना है। ब्रेंट क्रूड 75 डॉलर प्रति बैरल के नीचे कारोबार कर रहा है। इन बेहतर ग्लोबल संकेतों का असर भारतीय बाजारों पर भी देखने को मिल रहा है।