18 माह नहरें बंद की अफवाह पर ध्यान नहीं दें किसान, पानी की कमी नहीं

0
17

कोटा| सीएडी कमांड एरिया के किसान नहरी पानी को लेकर उड़ी अफवाह पर ध्यान नहीं दे। एसई एसके सामरिया व एक्सईएन जितेंद्र कुमार लुहाड़िया ने कहा है कि आगामी समय में किसानों को समय पर पर्याप्त नहरी पानी मिलेगा। चंबल परियोजना के बांधों में सिंचाई उपयोग का पर्याप्त पानी उपलब्ध है।

इधर, हाड़ौती भर के किसानों में पिछले 6 माह से अफवाह फैली हुई है कि सीएडी की नहरों से 18 माह तक उन्हें पानी नहीं मिलेगा। इस दौरान चंबल परियोजना के बांधों की मरम्मत होगी। इस अफवाह व किसानों के बीच फैली शंका को सीएडी प्रशासन ने पूरी तरह से खारिज कर दिया है।

सीएडी प्रशासन व सरकार का ऐसा कोई निर्णय नहीं है। चंबल सिंचाई परियोजना समिति के सभापति सुनील गालव व उपसभापति अशोक नंदवाना ने बताया कि दोनों के पास पिछले 6 माह से रोजाना किसानों की ओर से 10 फोन आते है। किसान पूछते है कि सीएडी की नहरों से 18 माह तक सिंचाई का पानी नहीं मिलेगा।

बांधों की मरम्मत होगी। ऐसे में गालव व नंदवाना ने किसानों से कहा है कि वह भ्रमित नहीं हो। इस संबंध में मंगलवार को उपसभापति नंदवाना ने सीएडी के एक्सईएन जितेंद्र कुमार लुहाड़िया से मुलाकात की। एक्सईएन ने अफवाह को सिरे से खारिज किया।

हम आपको बता दें कि चम्बल की दाईं और बाईं दोनों नहरें हाड़ौती की लाइफ लाइन है। यहाँ की खेती नहरी पानी पर निर्भर है। अगर खेती अच्छी होती है तो यहाँ का कारोबार अच्छा होता है। यहाँ की अर्थव्यवस्था इसी से चलती है।