दुनिया की पहली इलेक्ट्रिक रोड तैयार, चलते-चलते चार्ज हो जाएंगी कारें!

0
7

नई दिल्ली। दुनिया की पहली इलेक्ट्रिफाइड रोड बनकर तैयार हो गई है। स्वीडन में तैयार की गई इस रोड से कारों और ट्रकों की बैटरी चार्ज हो जाती है। दरअसल, इस रोड में एक ऐसी पटरी है जिसपर गुजरने से इलेक्ट्रिक कारों और ट्रकों की बैटरीज चार्ज की जा सकती हैं। रोड को स्वीडन में स्टॉकहोम के उपयोग के लिए ओपन कर दिया गया है।

सरकारी योजना का हिस्सा है यह सड़क
द गार्डियन की रिपोर्ट के अनुसार, इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने वाली यह सड़क सरकार की योजना का हिस्सा है। यह 1.2 मील यानी तकरीबन दो किलोमीटर लंबी इलेक्ट्रिक पटरी है। भविष्य में इसे विस्तार दिया जाएगा और देश में 20 हजार किलोमीटर तक ऐसी सड़कें, हाइवे बनाने का प्लान है।

चार्जिंग के लिए क्या करना होगा?
जिन वाहनों को इस सड़क से चार्ज किया जाना हो उनमें एक मूवेबल आर्म को लगवाना जरूरी है। यह आर्म सड़क में लगी पटरी से कनेक्ट होकर गुजरने वाले वाहन की बैटरी चार्ज करेगा। ऐसी सड़क बनाने का प्रति किलोमीटर की लागत 1.2 मियिन डॉलर है।

सड़क की पर चल सकते हैं नंगे पांव
खास बात यह है कि सड़क के ऊपरी हिस्से में बिजली नहीं है और इसपर नंगे पांव भी चला जा सकता है। इसे बनाने वालों की मानें तो सड़क में ऐसी तकनीक का इस्तेमाल किया गया है जिससे कि गाड़ियों को चार्ज करने के लिए इन्हें रोकना नहीं पड़ेगा।

क्या होगा फायदा?
गाड़ियों को चार्ज होने के लिए रुकना नहीं पड़ेगा, ऐसे में समय काफी बचेगा। ऐसी सड़कों के विस्तार के बाद इलेक्ट्रिक कार, ट्रक आदि की बैटरियों को कॉम्पैक्ट यानी छोटा भी किया जा सकेगा। उनमें ज्यादा पावर स्टोर कर रखने की आवश्यकता नहीं होगी। इससे बैटरी बनाने में आने वाली लागत में भी कमी आने की संभावना है।

बताते चलें कि स्वीडन फॉसिल फ्यूल पर निर्भरता को 2030 तक खत्म करने के लक्ष्य के साथ आगे बढ़ रहा है। ऐसे में ट्रांसपॉर्ट सेक्टर में 70 पर्सेंट तक कटौती करना जरूरी है।