खुदरा महंगाई दर में लगातार तीसरी बार गिरावट, औद्योगिक उत्पादन में कमी

0
10

नई दिल्ली। उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित खुदरा महंगाई दर में फरवरी (4.44%) के मुकाबले मार्च में राहत मिली है। पिछले महीने यह 4.28 फीसदी रही। गुरुवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, महंगाई दर पिछले पांच महीनों के निचले स्तर पर है। दिसंबर में 17 महीनों के सर्वोच्च स्तर पर पहुंचने के बाद यह लगातार तीसरी बार है जब महंगाई में कमी आई है।

सब्जियों और खाने-पीने की चीजों के दामों में गिरावट दर्ज की गई है। सब्जियों की महंगाई दर पिछले महीने के 17.57 फीसदी से घटकर 11.7 फीसदी पर आ गई। अंडे, दूध जैसे प्रोटीन युक्त पदार्थों की कीमतों में भी नरमी आई है। हालांकि, फलों की कीमतों में वृद्धि हुई है। खाद्य पदार्थों की महंगाई दर 3.26 फीसदी से घटकर 2.81 फीसदी पर रही।

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के पोल में विशेषज्ञों ने खुदरा महंगाई दर 4.20 फीसदी रहने का अनुमान लगाया था। भले ही महंगाई दर में कमी आई हो, लेकिन यह रिजर्व बैंक के मीडियम टर्म टारगेट 4.0 फीसदी से कुछ अधिक है। केंद्रीय बैंक ने पिछले सप्ताह रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया था।

एक अन्य आंकड़े में बताया गया कि फरवरी में औद्योगिक उत्पादन दर (IIP) में गिरावट दर्ज की गई है। जनवरी के 7.5 फीसदी के मुकाबले औद्योगिक उत्पादन में 7.1 फीसदी की रफ्तार से वृद्धि हुई।