चना खरीद कर सरकार नहीं कर रही किसानों का करोड़ों का भुगतान

0
59

कोटा । केंद्र सरकार की समर्थन मूल्य पर चना खरीदने की योजना किसानों के लिए छलावा साबित हो रही है। 4400 रुपए प्रति क्विंटल के भाव में समर्थन मूल्य पर चना बेचने वाले संभाग के 4241 किसानों को अभी तक भी राजफेड ने एक रुपए का भी भुगतान नहीं किया है।

जबकि अब तक राजफेड संभाग में संचालित 18 खरीद केंद्रों के माध्यम से 91 हजार 729 क्विंटल चना समर्थन मूल्य पर खरीद कर चुका है। 4400 रुपए प्रति क्विंटल के भाव में जिसका मूल्य 49 करोड़ 53 लाख 36 हजार 600 रुपए होता है।

मापदंडों के मुताबिक खरीद नहीं
मापदंडों के मुताबिक खरीद नहीं होने पर नैफेड ने राजफेड द्वारा खरीदे गए 91729 क्विंटल चने में से 37743.5 क्विंटल चना निरस्त कर दिया है। जिसे भंडारण करने से भी मना कर दिया है। ऐसे में अब यह चना राजफेड के खरीद केंद्रों, गोदामों के बाहर ही पड़ा है। साथ ही अब तक खरीदे गए पूरे चने का भुगतान भी राजफेड को नहीं किया है।नैफेड ने चना भंडारण में आपत्ति जताई है। 5 प्रतिशत से अधिक अपमिश्रित चने का वे भंडारण नहीं कर रहे। जबकि हाड़ौती में अधिकांश चना अपमिश्रित आ रहा है।
नरेश शुक्ला, क्षेत्रीय अधिकारी, राजफेड

खरीद की स्थिति
4400 रुपए प्रति क्विंटल चना का समर्थन मूल्य
18 खरीद केंद्र हाड़ौती में
91729 क्विंटल चने की खरीद
49.53 करोड़ का चना खरीदा गया