CBSE पेपर लीक: मेल भेजने वाली की पहचान, गूगल ने दी जानकारी

0
10

नई दिल्ली। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के पेपर लीक मामले में एक बड़ा डिवेलपमेंट सामने आया है। दिल्ली पुलिस ने दावा किया है कि उस शख्स की पहचान हो गई है जिसने सीबीएसई को मेल भेज पेपर लीक की जानकारी दी थी। पुलिस के मुताबिक गूगल से उस ईमेल अड्रेस की डिटेल हासिल कर ली गई है और मामले की जांच जारी है।

आपको बता दें कि एक अज्ञात शख्स ने सीबीएसई को लीक हुए पेपर की हाथ से लिखी हुई आंसरशीट मेल की थी। इसके बाद पेपर लीक का खुलासा हुआ था। पुलिस ने अबतक इस मामले में 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। फिलहाल पूरे देश में सीबीएसई पेपर लीक का मामला गरमाया हुआ है।

छात्रा अपने भविष्य को लेकर दिल्ली में प्रदर्शनरत हैं और उनके आंदोलन को कांग्रेस समेत विपक्षी राजनीतिक दलों का भी समर्थन मिला हुआ है। केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और सीबीएसई चेयरमैन के इस्तीफे की मांग की जा रही है।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच इस मामले की जांच कर रही है। इस पेपर लीक के तार झारखंड और बिहार से भी जुड़े हैं। झारखंड पुलिस ने अबतक 3 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि 9 नाबालिगों को जुवेनाइल ऐक्ट के तहत हिरासत में रखा गया है।

दिल्ली पुलिस अबतक इस मामले में 53 स्टूडेंट्स और 7 शिक्षकों से पूछताछ कर चुकी है। ऐसा माना जा रहा है कि सीबीएसआई को यह मेल लीक को उजागर करने वाले विसलब्लोअर ने ही किया था। उधर, विसलब्लोअर ने नया दावा करते हुए बताया है कि पॉलिटिकल साइंस का पेपर भी लीक हुआ है।

अबतक सीबीएसई ने केवल 10वीं के मैथ और 12वीं के इकनॉमिक्स के पेपर के लीक होने की बात स्वीकार की है। 12वीं इकनॉमिक्स की दोबारा परीक्षा के लिए 25 अप्रैल की तारीख तय की गई है। हालांकि 10वीं मैथ की दोबारा परीक्षा पर अभी सस्पेंस कायम है।

दसवीं (गणित) के पेपर को दोबारा करवाने पर अभी विचार किया जा रहा है। 15 दिनों के अंदर जांच के बाद तय होगा कि गणित का पेपर फिर से करवाया जाए या नहीं। अगर गणित का पेपर दोबारा हुआ भी तो सिर्फ दिल्ली-एनसीआर और हरियाणा क्षेत्र में होगा।

दोबारा परीक्षा होने की घोषणा के बाद पूरे देश के छात्र अजीब तरह के संकट से गुजर रहे हैं। 12वीं क्लास के छात्र खासतौर पर परीक्षा के बाद आईआईटी समेत कई एंट्रेंस टेस्ट की तैयारी करते हैं। दोबारा परीक्षा होने की स्थिति में अब उनको पहले 12वीं की तैयारी करनी होगी, जिससे अन्य एंट्रेंस की तैयारी के लिए उनको काफी कम समय मिलेगा।