हर मि‍नट बुक हो रही है मारुति‍ की नई Swift कार

0
18

नई दि‍ल्‍ली। मारुति‍ सुजुकी इंडि‍या की तीसरी जेनरेशन स्‍वि‍फ्ट लॉन्‍च होने के बाद से ही नए रि‍कॉर्ड बना रही है। 10 हफ्ते पहले मार्केट में आई स्‍विफ्ट की टोटल बुकिंग 1 लाख यूनि‍ट्स पर पहुंच गई है। इस लि‍हाज से हर मि‍नट औसतन एक स्‍वि‍फ्ट की बुकिंग की जा रही है जोकि‍ अपने आप एक रि‍कॉर्ड है।

इस रि‍कॉर्ड ने केवल दूसरी कंपनि‍यों को टक्‍कर नहीं दी है बल्‍कि‍ नंबर्स के मामले में यह अपनी की कंपनी के दूसरे ब्रांड्स से भी आगे नि‍कल गई है। नई स्‍वि‍फ्ट ने इस आंकड़ों के साथ ही कंपनी की बेस्‍ट सेलिंग कारों जैसे नई डीजायर और बलेनो को भी पीछे छोड़ दि‍या है।

3 से 4 माह है स्‍वि‍फ्ट की वेटिंग
बीते माह ऑटो एक्‍सपो में लॉन्‍च हुई स्‍वि‍फ्ट के वि‍भि‍न्‍न वेरि‍एंट्स के लि‍ए वेटिंग पीरि‍यड पहले ही 3 से 4 माह तक पहुंच गया है। मारुति सुजुकी के सीनि‍यर एक्‍जीक्‍यूटि‍व डायरेक्‍टर (मार्केटिंग एंड सेल्‍स) आर. एस. कलसी ने कहा कि‍ हमारे कुछ बेस्‍ट सेर्ल्‍स – नई डीजायर और बलेनो ने बेहद अच्‍छा परफॉर्मेंस दि‍या है लेकि‍न वह भी इस लैंडमार्क (1 लाख बुकिंग) को लॉन्‍च होने के इतने कम समय में हासि‍ल नहीं कर पाए हैं।

33 फीसदी बुकिंग टॉप वेरि‍एंट के लि‍ए
पहली बार कार खरीदने वालों के लि‍ए स्‍वि‍फ्ट के टॉप वेरि‍एंट के 33 फीसदी मॉडल्‍स की बुकिंग हुई है, जोकि‍ ऑटो गि‍यर शि‍फ्ट टेक्‍नोलॉजी का ऑफर देती है। कंपनी ने कहा है कि‍ इससे आज के दौर में कार चलाने वालों की सबसे बड़ी चिंता दूर हुई है। नई स्‍वि‍फ्ट बेहतर एक्‍सलरेशन परफॉर्मेंस, ज्‍यादा जगह और ज्‍यादा कम्‍फर्टेबल ड्राइविंग एक्‍सपीरि‍यंस देती है।

स्‍वि‍फ्ट की हर जेनरेशन रही पॉपुलर
स्‍वि‍फ्ट को सबसे पहले भारत में साल 2005 में लॉन्‍च कि‍या गया था। पहली जेनरेशन स्‍वि‍फ्ट ने देश में प्रीमि‍यम हैचबैक सेगमेंट को खड़ा कि‍या। पहली जेनरेशन को मई 2005 से जून 2011 तक बेचा गया। इस दौरान कंपनी ने स्‍वि‍फ्ट की 6,06,004 यूनि‍ट्स को बेचा।

इसके बाद, कंपनी ने स्‍वि‍फ्ट के सेकंड जेनरेशन को जुलाई 2011 में लॉन्‍च कि‍या। सेकंड जेनरेशन को दि‍संबर 2017 तक 11.9 लाख यूनि‍ट्स को बेचा, जोकि‍ पहले जेनरेशन से करीब दोगुना है। यह कंपनी की टॉप परफॉर्मिंग कार में से एक है और देश में बि‍कने वाली टॉप 5 कारों में इसका नाम रहता है।