सर्वे में 4.75 करोड़ की अघोषित संपत्ति उजागर

0
14

कोटा/ उदयपुर। आयकर विभाग ने राजस्थान में कोटा एवं उदयपुर में सर्वे कर 4.75 करोड़ की अघोषित संपत्ति उजागर की है। कोटा शहर में गुमानपुरा क्षेत्र के नामी स्टेशनरी व्यवसायी व रेडीमेड गारमेंट्स व्यवसायी के यहां सर्वे की कार्रवाई बुधवार शाम को पूरी हो गई। दोनों व्यवसायियों के यहां विभाग ने 2.75 करोड़ की अघोषित आय उजागर की। इस पर पेनल्टी सहित 2.10 करोड़ का आयकर वसूला।

प्रधान आयकर आयुक्त एसएस गौतम के निर्देशन में मंगलवार को गुमानपुरा स्थित नामी स्टेशनी व्यवसायी के बल्लभबाड़ी प्रतिष्ठान व अन्य प्रतिष्ठानों पर सर्वे की कार्रवाई शुरू की गई। साथ ही गुमानपुरा स्थित नामी रेडीमेड गारमेंट्स व्यवसायी के यहां भी सर्वे किया गया।

दोनों के यहां किए गए सर्वे में पाया गया कि इनके यहां से शहर के निजी शिक्षण संस्थाओं में अध्ययनरत विद्यार्थियों की पाठ्य पुस्तकें, कॉपी, रजिस्टर, आदि स्टेशनी का अघोषित कारोबार किया जाता है।

उदयपुर में कोर्ट चौराहे से हॉस्पिटल रोड स्थित सर्राफा व्यापारी के प्रतिष्ठान पर आयकर विभाग ने करीब 1.7 करोड़ की अघोषित संपत्ति पाई है। व्यापारी के पास पांच किलोग्राम सोना हिसाब-किताब से ज्यादा मिला। प्रतिष्ठान पर आयकर सर्वे बुधवार को दूसरे दिन भी जारी रहा। टीमें पूरे दस्तावेजों और खातों का मिलान कर जांच करती रहीं।

अघोषित संपत्ति के अनुमान के लिए वैल्यूएशन निकाली गई। बता दें कि विभाग की केन्द्रीय टीम ने मंगलवार शाम को सर्वे शुरू किया था। टीम को एकाएक देख प्रतिष्ठान के कर्मचारियों में हड़कंप का माहौल हो गया था। फौरी पूछताछ के बाद धीरे-धीरे सबको घर लौटा दिया गया। इसके बाद टीमों ने पूछताछ के साथ दस्तावेज जब्त किए थे।