कोटा में 55 पिच्छीधारी दिगम्बर जैन संतो का ऐतिहासिक मिलन

0
30

कोटा। शहर के कुन्हाड़ी स्थित रिद्धी सिद्वी नगर में बुधवार को दिगम्बर जैन संतों गणाचार्य आचार्य विराग सागर एवं शशांक सागर के संघ के 55 से अधिक पिच्छीधारी संतो का ऐतिहासिक मिलन आयोजित किया गया, जिसमे जैन समाज के अलावा समाज के अन्य वर्ग के लोगों ने भी शामिल हो कर मुनियों के प्रति कृतज्ञता प्रकट की।

सकल दिगम्बर जैन समाज समिति के अध्यक्ष अजय बाकलीवाल एवं महामंत्री विनोद टोरड़ी,  कार्याघ्यक्ष जेके जैन, प्रकाश बज एवं विमल कुमार नांता तथा रिद्धी सिद्धी जैन मंदिर के अध्यक्ष टीकम पाटनी एवं दीपक जैन ने बताया कि गणाचार्य 108 विराग सागर जी महाराज एवं उनका संघ बुधवार को प्रातः 8 बजे बूंदी रोड़ स्थित एक गुरूनानक स्कूल के समान से से विहार कर शोभायात्रा के रूप में बैंडबाजों, हाथी घोड़ों के साथ कुन्हाड़ी के एक्जोटिका गार्डन पहुंचे।

समाज के लोगों ने जगह जगह स्वागत द्वार लगाए थे। जहां कोटा में विहार कर रहे आचार्य शशांक सागर एवं उनके संघ के सदस्यों का भव्य ऐतिहासिक मिलन हुआ। इस अनुपम दृश्य में जैन व अजैन समाज के हजारों लोगों ने इस अनुपम दृश्य को देखा और अपने कैमरों में कैद किया।

इस अवसर पर 55 पिच्छीधारी संतों का भी मिलन हुआ इस अवसर पर जैन संतो के जयकारों के नारों से समूचा वातावरण गुंजायमान हो गया। इसके पूर्व केशवरायपाटन तिराहे पर सकल दिगम्बर जैन समाज की कार्यकारिणी तथा रिद्धी सिद्धी नगर चंद्रप्रभु मंदिर समिति के अध्यक्ष टीकम पाटनी के अलावा कोटा उत्तर के विधायक प्रहलाद गुंजल एवं महापौर महेश विजय की अगुवाई में नगर निगम के क्षेत्रीय पार्षदों ने संतों का पादपक्षालन किया।

पूर्व मंत्री शांति धारीवाल ने भी जैन संतों की अगवानी की। सकल समाज केपरम संरक्षक राजमल पाटोदी, सुरेश चांदचाड़, विजय दुगेरिया,  देवेंद्र पांड्या, मनोज जैसवाल, रितेश सेठी, संजय निर्वाण, कमलेश सांवला, विकास अजमेरा, अनिकेत सबदरा, जम्मू कुमार सोगानी आदि ने पादपक्षालन किया।

अहिंसा व स्वच्छ भारत का संकल्प
तत्पश्चात संतगण कुन्हाड़ी पैट्रोल पम्प से होते हुए रिद्धी सिद्धी नगर पहुंचेंगे जहां जैन मंदिर में दर्शन के उपरान्त सुवालका गार्डन में धर्मसभा आयोजित की गई जहां आचार्य विराग सागर के आव्हान पर हजारों लोगों ने हाथ खड़े कर अहिंसा, बेटी बचाओ,नशा मुक्ति एवं स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत के प्रति संकल्प व्यक्त किया।

इस मौके पर पूर्व मंत्री शांति धारीवाल एवं विधायक प्रहलाद गुंजल, सकल दिगम्बर जैन समाज एवं गुरु सेवा संघ के पदाधिकारियों ने भी संबोधित किया। रिद्धी सिद्धी नगर के जैन समाज ने विधायक गुंजल को राष्ट्र गौरव से सम्मानित किया।

धारीवाल ने आचार्य से निवेदन किया कि आगामी महावीर जयंती तक कोटा में रहकर समाज की आशीर्वचनों से लाभांवित करें। आचार्य ने समाज सेवी एकता धारीवाल को उनके द्वारा महिला सशक्तिकरण के कार्यों के लिए आशीर्वाद प्रदान किया। कार्यक्रम में एकता ने जय जिनेंद्र लिखी पट्टिकाऐं वितरीत की।

कार्याध्यक्ष जेके जैन के अनुसार सायं लैंडमार्क सिटी में एलन इंस्टीट्यूट के सभागार में आचार्य विराग सागर जी छात्रों को संबोधित किया तथा जीवन में असफलता से निराश नहीं होने का आव्हान किया।उसके बाद मारवाड़ी जैन समाज के श्रीपुरा मंदिर में पहुंच कर रात्रि विश्राम किया।

घट यात्रा के साथ आरके पुरम जायेंगे
8 मार्च को प्रातः 7 बजे मारवाड़ी जैन मंदिर से विहार कर दादाबाड़ी छोटा चौराहा होते भव्य घट यात्रा के साथ श्वेत केसरिया वस्त्र धारण किए हुए स्त्री पुरुषों का जुलूस ,बैंड बाजों के साथ तीन बत्ती सर्किल, संतोषी नगर सब्जीमण्डी, महावीर नगर विस्तार मंदिर, अहिंसा सर्किल से आरके पुरम में मुनि सुब्रतनाथ दिगम्बर जैन मंदिर जाऐंगे। जहां 8 से 15 मार्च तक 25 कत्रिम सम्मोशरण युक्त 1008 सम्मोशरण महामण्डल विधान गणाचार्यों के सानिध्य में होगा। इसी दौरान 9 मार्च को आर्यिका विकाम्या माता एवं आचार्य विराग सागर की भेंट होगी।