PNB फ्रॉड: 5 दिन में निवेशकों के डूबे 11 हजार करोड़ रुपए

0
19

नई दिल्‍ली। पंजाब नैशनल बैंक (PNB) अभी 11,400 करोड़ रुपए के फ्रॉड से उबर भी नहीं पाई थी कि उसे एक और तगड़ा झटका लगा है। फ्रॉड के महज 5 दिन के भीतर बैंक की मार्केट वैल्यू में खासी कमी आई है।

इस दौरान उसकी मार्केट कैप लगभग 11 हजार करोड़ रुपए कम हो गई है यानी उसके निवेशकों की इतनी रकम डूब गई है। सरकार की पीएनबी में सबसे ज्‍यादा हिस्‍सेदारी है, जिसके चलते उसको 6 हजार करोड़ रुपए से ज्‍यादा का नुकसान हुआ है। नुकसान उठाने वालों में LIC भी शामिल है, जिसे 1500 करोड़ रुपए से ज्‍यादा का झटका लगा है।

5 दिन पहले आई थी घोटाले की खबर
PNB में 5 दिन पहले घोटाले की खबर आई थी। बैंक से डायमंड कारोबारी नीरव मोदी ने 11400 करोड़ रुपए का घोटाला किया है। इस खबर के बाद बैंक के शेयर में लगातार गिरावट आ रही है। इस दौरान निवेशक को 10,939 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है। पिछले चार दिनों में PNB का शेयर करीब 28 फीसदी गिर चुका है। हालांकि बैंक के शेयर में मंगलवार को गिरावट का दौर थमता दिखा।

ऐसे हुई गिरावट
घोटाले के पहले बैंक की मार्केट कैप 39,209 करोड़ रुपए थी। जो मंगलवार को 28,270.22 करोड़ रुपए रह गई। इसमें कुल मिलाकर 10,938.78 करोड़ रुपए की गिरवट दर्ज की गई। PNB का शेयर मंगलवार को बीएसई में 116.55 रुपए पर बंद हुआ। हालांकि मंगलवार को एक समय PNB का शेयर 111 रुपए तक पर आ गया था।

किस को हुआ कितना घाटा
-मुम्‍बई शेयर बाजार में फाइलिंग के अनुसार PNB में सरकार की हिस्‍सेदारी 57.04 फीसदी है। इस प्रकार सरकार को शेयर में इस गिरावट से 6,274.4 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।
-एलआईसी की बैंक में 13.93 फीसदी हिस्‍सेदारी है। इस प्रकार एलआईसी को 1,532.3 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।
-फारेन पोर्टफोलिया इन्‍वेस्‍टर (FPIs) की बैंक में हिस्‍सेदारी 12.56 फीसदी है। ऐसे में इन लोगों को 1,381.6 करोड़ रुपए का नुकसान उठाना पड़ा है।
-छोटे निवेशकों को हिस्‍सेदारी के हिसाब से 387 करोड़ रुपए का नुकसान उठाना पड़ा है।