PNB फ्रॉड: नीरव की कंपनी के CFO विपुल अंबानी अरेस्ट, अनीता को IT नोटिस

0
42

नई दिल्ली। 11,400 करोड़ रुपए के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) फ्रॉड में जांच एजेंसी सीबीआई ने नीरव मोदी की कंपनी के फाइनेंस अफसर विपुल अंबानी को गिरफ्तार कर लिया है। वह पिछले करीब 4 साल से हीरा कारोबारी नीरव मोदी की कंपनी फायर स्टार में चीफ फाइनेंस अफसर (सीएफओ) हैं।

वहीं, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने 11,400 करोड़ रुपए के पीएनबी फ्रॉड में कांग्रेस लीडर अभिषेक मनु सिंघवी की पत्नी अनीता सिंघवी को नोटिस भेजा है। उन पर पीएनबी फ्रॉड के मुख्य आरोपी नीरव मोदी को गलत तरीके से फायदा पहुंचाने का आरोप है।

इस मामले में विपुल अंबानी के अलावा फायर स्टार ग्रुप के सीनियर एग्जीक्यूटिव अर्जुन पाटिल, गीतांजलि के मैनेजर नितेन शाही और नक्षत्र ग्रुप के सीएफओ कपिल खंडेलवाल को भी गिरफ्तार किया गया है। वहीं, इस मामले में आज सीबीआई ने पीएनबी के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर लेवल के 10 अधिकारियों से पूछताछ की है।

अलीबाग में मिला नीरव मोदी का फार्म हाउस
न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक सीबीआई को मुंबई के निकट अलीबाग में नीरव मोदी के एक नए फार्म हाउस का पता लगा है, जिसमें छापेमारी जारी है।

इस बीच सीबीआई ने पीएनबी के 10 ईडी लेवल के अधिकारियों से पूछताछ की। इसके अलावा नीरव मोदी की कंपनी के 8 और गीतांजलि ग्रुप के 10 अधिकारियों से भी पूछताछ की गई है।

अनीता सिंघवी को इनकम टैक्स नोटिस
इस मामले में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने अनीता सिंघवी को नोटिस भेजा है। उनसे पीएनबी फ्रॉड के मुख्य आरोपी नीरव मोदी को गलत ढंग से फायदा पहुंचाने के आरोप पर सफाई देने को कहा है। यह नोटिस इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के के जोधपुर परिक्षेत्र ने भेज है। इसमें अनीता सिंघवी और नीरव मोदी के बीच आर्थिक लेनेदन के आरोपों पर जवाब देने को कहा है।

सिंघवी ने किया 4.8 करोड़ का कैश पेमेंट
सूत्रों के अनुसार, अनीता सिंघवी से नीरव मोदी से लगभग 6 करोड़ रुपए के जेवरात खरीदने और इसमें से 4.8 करोड़ रुपए का कैश भुगतान करने के मामले में जवाब मांगा गया है। नोटिस इनकम टैक्स कानून की धारा 131 के तहत भेजा गया है।