कोटा रेलवे स्टेशन पर टिकट विंडो बंद करने की तैयारी, मशीन से मिलेगा टिकट

0
19

कोटा। रेलवे स्टेशनों पर साधारण टिकट बुकिंग विंडो भविष्य में नजर नहीं आएंगी। रेलवे की ओर से अब स्वचलित मशीनों से टिकट बेचने पर जोर दिया जा रहा है। मशीनों से यात्री स्मार्ट कार्ड के जरिए खुद ही टिकट ले सकते हैं। जिनके पास स्मार्ट कार्ड नहीं हैं, वे वहां तैनात रेल सेवक की सहायता से साधारण श्रेणी का टिकट ले सकते हैं।

रेलवे ने सेवानिवृत्त कर्मचारियों को इन मशीनों पर तैनात कर रखा है। कोटा जंक्शन पर 6 स्वचलित मशीनें लगाई हैं। हालांकि अभी बुकिंग कार्यालय बंद नहीं किया है, लेकिन उस पर मोटे अक्षरों में लिख दिया है कि टिकट लेने के लिए आपके पीछे लगी मशीनों का उपयोग करें।

सूत्रों के अनुसार भविष्य में रेलवे की ओर से साधारण बुकिंग विंडो को बंद करने की योजना है, इसलिए स्वचलित मशीनों से टिकट बेचने पर जोर दिया जा रहा है। मंडल के डकनिया, सवाईमाधोपुर, गंगापुर सिटी, हिण्डौन सिटी, बयाना और भरतपुर स्टेशनों पर भी इस तरह की मशीनें लगाई जा चुकी हैं। इस बार भी रेल बजट में सभी जोनल रेलवे में स्वचालित मशीनों स्थापित करने का प्रावधान किया है।

और खरीदी जाएंगी स्वचलित मशीनें : पश्चिम मध्य रेलवे में स्वचलित मशीनों के लिए 8 करोड़ 17 लाख रुपए स्वीकृत हुए थे। इनमें से करीब 5 करोड़ रुपए व्यय हो गए और आगामी वित्तीय वर्ष में करीब 1 करोड़ रुपए की लागत से और मशीनें खरीदी जाएंगी। वहीं पश्चिम मध्य रेलवे में विभिन्न स्टेशन पर स्वचलित मशीनें लगाने के लिए आगामी वित्तीय वर्ष में ढाई करोड़ रुपए और उत्तर पश्चिम रेलवे में डेढ़ करोड़ खर्च किए जाएंगे।