अन्ना हजारे का स्वागत करेंगे शहरवासी, किसानों में भारी उत्साह

0
32

कोटा। देश में व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ जन लोक पाल आंदोलन के प्रणेता समाज सेवी अन्ना हजारे 23 फरवरी को कोटा में किसानों युवाओं और बुद्विजीवी गणमान्य लोगों को संबोधित करेंगे। अन्ना के कोठा अगमन को लेकर किसानों, प्रबुर्द्ध वर्ग में भारी उत्साह है।

इस संदर्भ में आयोजन इंजीनियर्स भवन में समिति के सदस्यों ने सोमवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि अन्ना देश में भ्रष्टाचार समाप्त करने एवं मजबूत लोकतत्र के लिए जन लोकपाल की मांग कर रहे है।  कार्यक्रम संयोजक डॉ. गोपाल सिंह एवं हाड़ौती किसान यूनियन के महामंत्री दशरथ कुमार ने बताया कि बताया कि अन्ना हजारे 23 फरवरी को सुबह 9.30 बजे कॅरियर कोचिंग संस्थान के ऑडिटोरियम में युवा स्वावलम्बन,आत्मविश्वास विषयों पर छात्रों से रूबरू होंगे।

इसके बाद 11.30 से 12.30 तक झालावाड़ रोड़ पर इंजीनियर्स भवन पर इंस्टीट्यूट के अध्यक्ष सीकेएस परमार की अध्यक्षता में जल संरक्षण एवं चम्बल शुद्धिकरण आदि विषयों पर शहर के गणमान्य प्रबुद्ध वर्ग को संबोधित करेंगे। दोपहर में चम्बल लघु औद्यागिक क्षैत्र डीसीएम रोड़ फ्लाईओवर के पास विशाल जन सभा को संबोधित करेंगे।

सायं 4.30 से 5.30 बजे प्रेस क्लब की मीट द प्रेस में पत्रकारों से संवाद करेंगे।  इससे पहले अन्ना सीएडी सर्किल स्थित अन्ना चौक भी जाऐंगे जहाँ से 4 वर्ष पूर्व भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन कोटा में छेड़ा गया था।सायंकाल 6 बजे हाड़ौती किसान यूनियन द्वारा केशवरायपाटन क्षैत्र में गुडली में ग्राम सभा में किसानों का मार्गदर्शन करेंगे।

दशरथ कुमार ने कहा कि अन्ना एक विचार है,व्यक्ति नहीं व्यक्तित्व है। समाज सेवी डॉ आरसी साहनी ने कहा कि अन्ना ने देश में भ्रष्टाचार के खिलाफ अलख जगाई है। एलसी बाहेती ने कहा कि अन्ना के स्वागत के लिए सभी वर्ग बिना किसी भेदभाव के एक मंच पर नैतिक मूल्यों को स्थापित करने के लिए एकत्र हुए है। शहर के अनेक गणमान्य लोग समिति से जुड़ना चाहते है। 

प्रवक्ता बृजेश विजयवर्गीय ने बताया कि स्वागत समिति में इंजीनियर्स इंस्टीट्यूट के चेयरमेन सीकेएस परमार, कोटा सिटीजन काउंसिल के अध्यक्ष एलसी बाहेती, गायत्री परिवार के मुख्य ट्रस्टी जीडी पटेल, एसएसआई के अध्यक्ष प्रेम भाटिया,आरएपीपी के पूर्व स्थल निर्देशक सीपी झाम्ब, किसान नेता विनोद पुरोहित,साहित्यकार पुरूषोत्तम पंचोली, शिक्षाविद् डॉ गोपाल धाकड़, कोटा एनवायरमेंट सेनीटेशन सोसायटी की डॉ सुसेन राज, इंडिया अगेंस्ट करप्शन के संयोजक विजय पालीवाल, संवेदना सेवा समिति के डॉ. आरसी साहनी आदि को शामिल किया गया है।