सीएम राजे ने व्यापार महासंघ के स्वच्छता महा अभियान को सराहा

0
17

कोटा।  उप महापौर सुनीता व्यास ने राज्य की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया से भेंट कर नगर निगम एवं कोटा व्यापार महासंघ द्वारा चलाये जा रहे स्वच्छता एवं जन जागृति अभियान के बारे में बताया। उन्होनें कहा की जन सहभागिता से चलाये जा रहे इस अभियान में सभी का भरपूर सहयोग मिल रहा है।

उप महापौर ने कहा हमारा मिशन है आने वाले एक वर्ष में कोटा शहर का नाम प्रदेश व देश के स्वच्छ शहरों में शुमार हो। इसके लिये कोटा की जनता एकजुट हो चुकी है।  हम चाहते है कि जिस तरह इन्दौर शहर ने देश के मुख्य स्वच्छ शहरों में अपना नाम दर्ज करवाया है वह जन सहभागिता से ही संभव हुआ है। पिछले 4 माह से कोटा शहर का हर आम नागरिक शहर को स्वच्छ बनाने में अपना पूर्ण योगदान प्रदान कर रहा है।

कोटा व्यापार महासंघ के महासचिव अशोक माहेश्वरी ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि स्वच्छता के साथ-साथ शहर के सौंदर्यीकरण, सड़कों, लाईटिंग, पार्किंग एवं अतिक्रमण मुक्त करने के लिये प्रशासन भी ध्यान दे। उन्होनें मुख्यमंत्री से कोटा शहर के आसपास के पर्यटन स्थलों को विकसित करवाने में सरकारी स्तर पर प्रयास किये जाने की अपील की।

कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष जैन एवं महासचिव माहेश्वरी ने मुख्यमंत्री को बताया कि स्वच्छता महा अभियान के माध्यम हम लोगों में जन जागृति की भी अलख जगा रहे है। जिसमें हमें निरन्तर कामयाबी मिल रही हैं ओर आमजन भी इसमें जुडता जा रहा है। 

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि मैंने कोटा शहर के भम्रण के दौरान पाया कि पहले से स्वच्छता एवं अतिक्रमण को लेकर काफी सुधार हुआ है। उन्होंने कहा कि जन सहभागिता के बिना स्वच्छता अभियान अधूरा है।  जिस तरह से कोटा शहर में स्वच्छता के प्रति जागरूकता आई है, निश्चित ही शहर इस मिशन में सफल होगा।

उन्होंने इस अनुठी पहल की प्रंशसा करते हुये भरोसा दिलाया कि कोटा शहर को स्वच्छ व सुन्दर बनाने में संसाधनों की कोई कमी नहीं आने दी जायेगी। उन्होनें नगर निगम के महापौर महेश विजय उप महापौर सुनीता व्यास एवं कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष जैन एवं महासचिव माहेश्वरी को कहा कि कोटा को स्वच्छ एवं सुन्दर एवं पर्यटन शहर बनाने की कार्य योजना बनाकर भेजें। उसको तुरन्त ही राज्य सरकार द्वारा अमल में लाया जायेगा।

उन्होने कहा कि नगर निगम एवं कोटा व्यापार महासंघ द्वारा जनसहभागिता से चलाये जा रहे अभियान को पूरे प्रदेश में लागू किया जायेगा। उन्होनें कहा कि प्रशासन को भी निर्देश देंगे कि चलाये जा रहे स्वच्छता महाअभियान में अपना सम्पूर्ण सहयोग प्रदान करे।