आपके डेबिट/क्रेडिट कार्ड में लग सकती है सेंध, जानिए कैसे

0
17

पिछले कुछ समय में हम लोग ऑनलाइन शॉपिंग ज्यादा करते हैं। आजकल सारे काम क्रेडिट और डेबिट कार्ड स्वाइप के जरिए किए जाते हैं। हाल में एटीएम मशीन से पैसा चुराने के मामलों में भी बढ़ोतरी हुई है। पिछले साल 32 लाख एटीम के पिन भी हैक कर लिए गए थे। जानें, किन तरीकों से साइबर क्रिमिनल आपके डेबिट/क्रेडिट कार्ड में लगा सकते हैं सेंध…

एटीएम स्किमिंग सबसे कॉमन तरीका माना जाता है। इसमें एटीएम मशीन में एक कार्ड रीडर लगा दिया जाता है और कार्ड की मेग्नेटिक स्ट्रिप की सारी इन्फर्मेशन को हैकर चुराकर पैसा निकाल लेते हैं। केवल स्किमिंग ही नहीं बल्कि के जरिए ही एटीएम से पैसा नहीं चुराया जाता।

फेक कीपैड्स लगा कर भी कार्ड का पिन चुराया जा सकात है। क्रिमिनल पिन चुराने के लिए असली कीपैड के ऊपर फेक कीपैड चुरा लेते हैं। कार्ड ट्रैपिंग में आपका कार्ड मशीन में ही फंस जाता है और बाद में उसे निकाल कर उससे पैसा चुरा लिया जाता है। इस तकनीक में साइबर क्रिमिनल आपको फेक वेबसाइट पर रिडायरेक्ट कर देते हैं जो असली जैसी लगती है।

इसके बाद आपके जैसे ही कार्ड से ट्रांजैक्शन करते हैं तो कार्ड की डीटेल्स क्रिमिनल्स तक पहुंच जाती है। इस तरीके में आपके पास इनकम टैक्स डिपार्टमेंट या आपके बैंक के नाम से एक ईमेल या मेसेज भेजा जाता है। इसके लिंक में आपकी पर्सनल डीटेल्स को किसी वेबसाइट पर ले लिया जाता है, बाद में इस डेटा के जरिए पैसा चुरा लिया जाता है।

एटीएम से आपका पैसा चुराने का एक और तरीका है हिडन कैमरा। इसमें क्रिमिनल एटीएम मशीन के नजदीक हिडन कैमरा लगा देते हैं और आपका पिन नंबर चुरा लेते हैं।

मोबाइल ऐप्स भी आपके लिए खतरनाक हो सकती हैं। इसलिए हमेशा सही सॉर्स से ही ऐप डाउनलोड करें क्योंकि फेक ऐप के जरिए आपकी पर्सनल इन्फर्मेशन चुराई जा सकती है।