अंबानी-अडानी के डूब गए 64 हजार करोड़, सरकार का फैसला पड़ा भारी

0
16

नई दिल्ली। बजट पेश होने के बाद से अब तक घरेलू शेयर बाजार में गिरावट थमने का नाम नहीं ले रही है और लगातार तीसरे दिन बाजार गिरावट के साथ बंद हुआ है। इस गिरावट के पीछे का मुख्य कारण मोदी सरकार का एक फैसला रहा है। बाजार में बजट के बाद से जारी गिरावट से अंबानी और अडानी के करीब 64 हजार करोड़ रुपए डूब गए हैं। आइए जानते हैं किसे कितने करोड़ रुपए का हुआ नुकसान…

क्या था मोदी सरकार का फैसला
वित्त मंत्री अरुण जेटली एक फरवरी को बजट पेश किया था। बजट में उन्होंने स्टॉक्स से कमाई पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स लगाने की घोषणा की।

इसके तहत एक साल से ज्यादा रखे गए स्टॉक्स पर अगर 1 लाख से ज्यादा इनकम होती है तो निवेशकों को 10 फीसदी टैक्स देना होगा। एलटीसीजी लगाए जाने की वजह से उस दिन से अब तक स्टॉक मार्केट में बिकवाली देखने को मिल रही है।

गौतम अडानी (अडानी ग्रुप)
कितना घटा मार्केट कैप: 17843.53 करोड़ रु
मोदी के करीबी कहे जाने वाले अडानी ग्रुप के मालिक गौतम अडानी की कंपनियों के कुल मार्केट कैप में 17843.53 करोड़ रुपए की गिरावट हुई। इसमें अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड, अडानी पोर्ट्स, अडानी पावर और अडानी ट्रांसमिशन का मार्केट कैप लिया गया है। सबसे ज्यादा अडानी पोर्ट के मार्केट कैप में कमी आई है। कंपनी का मार्केट कैप 8459.83 करोड़ रुपए घटा है।

ग्लोबल सेल ऑफ का भी असर
वहीं अब गिरावट लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स से शिफ्ट होकर ग्लोबल मार्केट की हलचल की ओर हो गई है। अमेरिकी शेयर बाजार में गिरावट का असर दुनियाभर में जारी है। अमेरिका, यूरोप समेत एशियाई बाजारों में भी गिरावट हो रही है।

 कितना घटा मार्केट कैप
अडानी एंटरप्राइजेज
3378.77 करोड़ रु
अडानी पोर्ट
8459.83 करोड़ रु
अडानी पावर
2776.99 करोड़ रु
अडानी ट्रांसमिशन
3227.94 करोड़ रु

सेकंडों में निवेशकों के 5 लाख करोड़ रुपए डूबे
मंगलवार के कारोबार में लार्ज कैप शेयरों के साथ मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी बिकवाली से निवेशकों के 5 लाख करोड़ रुपए डूब गए थे।

सोमवार को बीएसई पर लिस्टेड कुल कंपनियों का मार्केट कैप 1,47,95,747 करोड़ रुपए था। वहीं, मंगलवार को सेंसेक्स 1200 अंक गिरकर खुला। इतनी बड़ी गिरावट के बाद निवेशकों को करीब 5,22,054 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।

केश अंबानी (रिलायंस इंडस्ट्रीज)
कितना घटा मार्केट कैप: 45,593 करोड़ रु
बजट के बाद से लगातार तीन दिनों से बाजार में जारी गिरावट से रिलायंस इंडस्ट्रीज के मार्केट कैप में 45,593 करोड़ रुपए की कमी आई है। पिछले तीन दिनों में आरआईएल का स्टॉक 8 फीसदी से ज्यादा टूटा है।

स्टॉक्स में गिरावट से कंपनी का मार्केट कैप घटा है।1 फरवरी को आरआईएल का मार्केट कैप 5,97,838 करोड़ रुपए था, जो मंगलवार को स्टॉक के निचले स्तर 872.10 रुपए के भाव पर कंपनी का मार्केट कैप घटकर 5,52,245 करोड़ रुपए हो गया।