कोटा का अपमान सहन नहीं किया जाएगा

0
37

कोटा। कोटा शहर कोचिंग के नाम से प्रसिद्व है, लेकिन किसी साजिश के तहत शहर को देशभर में बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। व्यावसायिक हितों को देखते हुए मीडिया को प्रभावित कर कोटा के लिए गलत समाचार प्रकाशित करवाए जा रहे हैं। कोटा का यह अपमान नहीं सहा जाएगा।

कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष क्रांति जैन और महासचिव अशोक माहेश्वरी, महेश विजय – महापोर नगर निगम, कोटा पंकज मेहता, प्रेम भाटिया (अध्यक्ष एसएसआई एसोसियेशन), राजकुमार जैन महासिचव, नरेश जैन, ने शुक्रवार को पत्रकार वार्ता में यह बात कही।

कोटा को बदनाम करने वाली संस्थाओं के खिलाफ मोर्चा खोला जाएगा। इसके लिए न्यायालय का दरवाजा खटखटाना पड़ा तो भी पीछे नहीं हटेंगे। न्यूज के द्वारा कोटा शहर को सेक्सुअल सिटी, गांजा, सिगरेट,बीड़ी, शराब, और कोटा में बच्चों को पढ़ने भेजना, मौत को बुलावा देना है आदि है, सेक्सुअल सिटी बताने से हमारे शहर की बहु बेटियों और संस्कृति को बदनाम किया गया।

कोटा ऐसा शहर है जहां स्टूडेंट को बेस्ट माहौल मिल रहा है। यही कारण है कि हर वर्ष यहां से टॉपर आ रहे हैं। मेडिकल हो या इंजीनियरिंग दोनों तरह की प्रवेश परीक्षाओं में कोटा से कोचिंग करने वाले विद्यार्थी बाजी मार रहे हैं।