स्वच्छता एप में कोटा राज्य में पहले नंबर पर

0
5

कोटा। स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वच्छता एप डाउनलोड करने, उस पर शिकायत डालने तथा इससे कितने लोग संतुष्ट हैं, इस मापदंड पर केंद्र सरकार ने 31 जनवरी तक की रैंकिंग बुधवार को जारी की। इसमें सर्वे में शामिल 10 लाख से अधिक जनसंख्या वाले 52 शहरों में कोटा का स्थान 17वें और राज्य में पहले नंबर पर आया है। टॉप-20 में आने वाले शहरों को स्वच्छता एप संबंधी तीन बिंदुओं में 400 में से 400 नंबर मिलेंगे।

नगर निगम संबंधी शिकायतों के लिए तैयार किया स्वच्छता एप को 1 अप्रैल 2017 से लेकर 31 जनवरी तक जनता के मोबाइल पर डाउनलोड करवाना था। कोटा की जनसंख्या और मकानों के हिसाब से नगर निगम को 22 हजार 500 एप डाउनलोड करना था। नगर निगम ने प्रशिक्षु आईएएस जसमीत सिंह संधू व उपायुक्त राजेश डागा के नेतृत्व में जो टीमें बनाकर अभियान चलाया।

इससे कोटा शहर से 25 हजार एप डाउनलोड हुए हैं। इसके आधार पर कोटा का कुल स्कोर 59830.80 हुआ। यूजर एंगेजमेंट में 9707.70 अंक, यूजर हैप्पीनेस में 14888.70 अंक मिले हैं। इन अंकों के साथ कोटा का स्थान टॉप 20 शहरों में 17वें स्थान पर आया है।

राजस्थान में पहले स्थान पर 
इस रैंकिंग में 52 शहरों में से टॉप 20 में राजस्थान का कोटा को छोड़कर अन्य कोई शहर नहीं है। सभी की रैंकिंग कोटा से पीछे है। जयपुर 23960 अंकों के साथ 27वें स्थान पर है। जोधपुर 4496.10 अंक के साथ 38वें स्थान पर है।

इनमें इसलिए मिलेंगे कोटा को पूरे अंक
1) 31 जनवरी तक कुल मकानों का 10% स्वच्छता एप डाउनलोड करना।
10 प्रतिशत से अधिक पर 150 अंक।
(कोटा ने 25 हजार एप डाउनलोड किए)
2) शिकायतों का समाधान और सर्विस लेवल एंगेजमेंट पर
90 से 100 प्रतिशत पर 150 नंबर
(कोटा ने 95 प्रतिशत समाधान की)
3) यदि शहर स्वच्छता एप डाउनलोड करने में टाॅप-20 शहरों में आता है तो
1 से 20 रैंकिंग में आने पर-100 अंक
(कोटा 17वें स्थान पर है)

28 फरवरी तक बढ़ी तारीख :अब केंद्र सरकार ने एप डाउनलोड करने की तारीख 28 फरवरी तक बढ़ा दी है। जिन लोगों ने एप डाउनलोड नहीं किया है वे भी डाउनलोड कर सकते हैं। साथ ही एप पर नगर निगम से संबंधित शिकायतें दर्ज कर सकते हैं।