इकोनॉमिक सर्वे से बाजार में उछाल, सेंसेक्स और निफ्टी रिकॉर्ड स्तर पर बंद

0
17

नई दिल्ली। इकोनॉमिक सर्वे में वित्‍त वर्ष 2018-19 में जीडीपी ग्रोथ 7 से 7.5 फीसदी रहने का अनुमान जताया गया है। इकोनॉमिक सर्वे में जीडीपी ग्रोथ अनुमान में बढ़ोतरी से सोमवार को शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुए। इकोनॉमिक सर्वे पेश होने के चलते बाजार में तेजी देखने को मिली।

हैवीवेट शेयरों मारुति, एचडीएफसी, टीसीएस, एचयूएल, एचडीएफसी बैंक, इंफोसिस में बढ़त से मार्केट को सपोर्ट मिला। जिससे सेंसेक्स 233 अंक की उछाल के साथ 36,283 अंक पर और निफ्टी 61 अंकर बढ़कर 11,130 अंक पर बंद हुआ। वहीं कारोबार में बढ़त से सेंसेक्स और निफ्टी पिछले रिकॉर्ड स्तर को तोड़ने में कामयाब रहे। सेंसेक्स जहां 36,443.98 प्वाइंट्स के ऑलटाइम हाई पर पहुंचा। वहीं निफ्टी ने 11,171.55 प्वाइंट्स के नए स्तर को छुआ।

 क्यों आई बाजार में तेजी
– फॉर्च्यून फिस्कल के डायरेक्टर जगदीश ठक्कर का कहना है कि इकोनॉमिक सर्वे के पहले निवेशकों के सेंटीमेंट्स में सुधार से मार्केट में शानदार तेजी देखने को मिल रही है।
– वहीं तीसरे क्वार्ट में कॉरपोरेट्स अर्निंग बेहतर रहने और ग्लोबल मार्केट का परफॉर्मेंस अच्छा रहने से मार्केट को सपोर्ट मिला है।
– आईटी, ऑटो और मेटल शेयरों में खरीददारी से बाजार रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा है।
– एशियाई बाजारों में तेजी से घरेलू शेयर बाजार में तेजी दर्ज की गई है।
– एफआईआई का डोमेस्टिक मार्केट में बढ़ता इनफ्लो भी बाजार में बढ़त की एक वजह है। गुरुवार के कारोबार में एफआईआई ने 937.31 करोड़ रुपए खरीददारी की थी।
 
मारुति में 3.5 फीसदी की बढ़ोतरी
– तीसरी तिमाही में मुनाफा बढ़ने से सोमवार के कारोबार में मारुति के शेयर में 3.5 फीसदी से ज्यादा की तेजी दर्ज की गई। इस दौरान कंपनी को 1799 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। तीसरी तिमाही में अच्छे नतीजे से बीएसई पर शेयर 2 फीसदी की बढ़त के साथ 9466 रुपए पर खुला था। वहीं 25 जनवरी को स्टॉक 9277.20 रुपए के भाव पर बंद हुआ था। कारोबार में बढ़त से शेयर 3.58 फीसदी चढ़कर 9609.95 रुपए पर पहुंच गया, जो इंट्रा-डे का हाई है।
 
न्यूजेन सॉफ्टवेयर का शेयर 3.3% प्रीमियम पर लिस्ट
– आईटी सेक्टर की कंपनी न्यूजेन सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजीज लिमिटेड का शेयर बीएसई पर 3.26 फीसदी प्रीमियम के साथ 253 रुपए पर लिस्ट हुआ। वहीं एनएसई पर शेयर 3.71 फीसदी प्रीमियम के साथ 254.10 रुपए पर लिस्ट हुआ। आईपीओ के जरिए कंपनी ने 424 करोड़ रुपए जुटाए हैं।
 
L&T का मार्केट कैप 2 लाख करोड़ के पार
– कंस्ट्रक्शन कंपनी लार्सन एंड टुब्रो 2 लाख करोड़ क्लब वाली कंपनियों में शामिल हो गई। दरअसल, फाइनेंशियल ईयर 2018 की तीसरी तिमाही के नतीजे जारी होने से पहले सोमवार को शेयर 1441 रुपए के हाई पर पहुंच गया। स्टॉक में 2 फीसदी की बढ़त से कंपनी का मार्केट 2 लाख करोड़ रुपए के पार हो गया।
 
मिडकैप औऱ स्मॉलकैप इंडेक्स टूटे
– लार्जकैप शेयरों के मुकाबले मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में कमजोरी दिखी। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.73 फीसदी गिरकर 17710 अंक पर बंद हुआ।
– वहीं बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 1.10 फीसदी की गिरावट के साथ 19129 अंक पर बंद हुआ।

ऑटो-आईटी इंडेक्स बढ़े, फार्मा-पीएसयू बैंक फिसले
– सेक्टोरल इंडेक्स में निफ्टी ऑटो और आईठी इंडेक्स में सबसे ज्यादा तेजी देखने को मिली। निफ्टी ऑटो इंडेक्स 1.48 फीसदी बढ़ा, जबकि निफ्टी आईटी इंडेक्स में 0.95 फीसदी की बढ़त रही।
– वहीं बैंक निफ्टी में 0.19 फीसदी, निफ्टी फाइनेंस सर्विसेज में 0.88 फीसदी, निफ्टी मेटल में 0.14 फीसदी तेजी आई।
– हालांकि निफ्टी फार्मा इंडेक्स में सबसे ज्यादा 1.10 फीसदी की गिरावट रही। इसके अलावा निफ्टी एफएमसीजी इंडेक्स 0.57 फीसदी और निफ्टी रियल्टी इंडेक्स 0.34 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुए।
 
FII रहे खरीददार, डीआईआई ने की बिकवाली
– गुरुवार के कारोबार में फॉरेन इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (एफआईआई) ने घरेलू शेयर बाजार में 937.31 करोड़ रुपए खरीददारी की। वहीं डोमेस्टिक इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (डीआईआई) ने 965.67 करोड़ रुपए की बिकवाली की।