जापान के क्रिप्टोकरंसी एक्सचेंज से हैकरों ने उड़ाए 34 अरब रुपये

0
12

तोक्यो। हैकरों ने जापान के एक एक्सचेंज को 58 अरब येन (करीब 34 अरब रुपये) मूल्य की क्रिप्टोकरंसी का चूना लगा दिया। जापानी मीडिया में आई खबरों में यह दावा किया गया है। कॉइनचेक एक्सचेंज ने शुक्रवार को अपनी वेबसाइट पर बताया कि उसने NEM नाम की डिजिटल करंसी की बिक्री और निकासी पर रोक लगा रखी है। वेबसाइट पर आगे लिखा गया है कि उसने अन्य क्रिप्टोकरंसी की डीलिंग्स पर भी पाबंदी लगा दी है।

शुक्रवार की रात आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कॉइनचेक के प्रेजिडेंट कोइचिरो वादा ने झुककर माफी मांगी। क्योदो न्यूज सर्विस के मुताबिक, वादा ने कहा कि कंपनी वित्तीय सहायता की मांग कर सकती है। जापानी टीवी फुटेज में शुक्रवार रात को ग्राहकों के समूह को कंपनी के तोक्यो स्थित हेड ऑफिस के बाहर खड़ा दिखाया गया।

एशिया में खुद को बिटकॉइन और क्रिप्टोकरंसी का सबसे बड़ा एक्सचेंज बतानेवाला कॉइनचेक का कहना है कि उसने शुक्रवार सुबह रात करीब 3 बजे अपने सिस्टम में अनधिकृत प्रवेश को पकड़ा। यह हैकिंग साल 2014 में जापान के ही बिटकॉइन एक्सचेंज Mt. Gox में हुई 48 अरब येन की हैकिंग से बड़ी है।