कड़ी सुरक्षा के बीच “पद्मावत” 7 हजार स्क्रीन्स पर रिलीज

0
23

नई दिल्ली/गुड़गांव/पानीपत। राजपूत संगठनों के विरोध के बीच फिल्म पद्मावत गुरुवार को करीब सात हजार स्क्रीन्स पर रिलीज हो गई। मध्य प्रदेश, गुजरात, राजस्थान और गोवा में यह फिल्म थिएटर में नहींं दिखाई जाएगी। सिनेमाघर मालिकों के संगठन मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने इन राज्यों में फिल्म नहीं दिखाने का एलान किया है।

इस बीच, देश के कई शहरों में मल्टीप्लेक्स और थिएटर की सिक्युरिटी बढ़ा दी गई है। भोपाल में विरोधियों ने कार में लगाई आग दी। गुड़गांव और नोएडा में स्कूल की छुट्टी कर दी गई है। बता दें कि बुधवार को कुछ लोगों ने यहां एक स्कूल बस पर पथराव किया था। राजपूत करणी सेना से देशव्यापी बंद का एलान किया है।

आज क्या हुआ
10:45 AM: सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि यह पुराने घावों को कुदरेता है। इसलिए ऐसी फिल्में नहीं बनना चाहिए। इसकी क्या ऐतिहासिक वेल्यू है? जीरो।

वे कहते हैं कि इसका इतिहास से कोई लेना देना नहीं है। तो फिर आपने क्यों इसे बनाई? इसके अलावा, राहुल गांधी इस पर अपना स्टैंड क्लीकर क्यों नहीं करते।

10: 30 AM: केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने कहा- “अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता इतिहास के साथ छेड़छाड़ करने की इजाजत नहीं देती। जो विरोध कर रहे हैं, उनके साथ बैठकर इसको सुलझाया जाए। जब चीजें सहमति से नहीं होती हैं तो फिर उनमें गड़बड़ होती है।”

10:20AM:कांग्रेस के नेता दिग्विजय सिंह ने कहा- किसी धर्म या जाति की भावनाओं को आहत करने वाली फिल्मों को नहीं बनाया जाना चाहिए।

9:00 AM:- मध्यप्रदेश पुलिस ने बताया कि पद्मावत का विरोध कर रहे लोगों ने बुधवार को एक कार में आग लगा दी थी। इस मामले में दो लोगों को अरेस्ट किया है।

8:30 AM:गुड़गांव-नोएडा में कई स्कूल में छुट्टी दे दी गई है।8:20 AM:दिल्ली के दिलशाद गार्डन में कुछ लोगों ने स्कूल बस को रोक दिया।

8:15 AM:एक पेरेंट ने बताया कि अभी गुड़गांव में सबकुछ ठीक है लेकिन कब क्या हो जाए किसे पता।

8:10 AM:दिल्ली और गुड़गांव में कई पेरेंट्स अपने बच्चों को स्कूल छोड़ते देखे गए। एक पेरेंट ललित ने बताया कि यहां तनाव है, यदि गुरुग्राम में बस पर अटैक किया जा सकता है तो दिल्ली में ऐसा हो सकता है। हम बच्चों की सेफ्टी को देखते हुए उन्हें स्कूल छोड़ने आए हैं।

8:00 AM:उदयपुर एडीएम एससी शर्मा ने निजी और सरकारी स्कूलों को गणतंत्र दिवस समारोह में घूमर डांस नहीं करने का आदेश दिया।

कैसे थे कल राज्यों के हालत?
राजस्थान
– करणी सेना का चित्तौड़गढ़ जिलाध्यक्ष गोविंद सिंह खंगारोत गिरफ्तार किया गया। बाकी पदाधिकारी अंडरग्राउंड हो हुए। जौहर की चेतावनी के चलते चित्तौड़गढ़ दुर्ग फिर बंद हुआ। महिलाओं को अंदर नहीं जाने देने पर नारेबाजी और तोड़फोड़ भी हुई। सीकर में भी तोड़फोड़ हुई।
– राजपूतों ने निम्बाहेड़ा में टायर जलाकर दिल्ली-जयपुर हाईवे जाम किया। संजय लीला भंसाली के विरोध में और महारानी पद्मिनी के सम्मान में नारेबाजी की।

हरियाणा
– बुधवार को जीडी गोयनका वर्ल्ड स्कूल की बस पर बुधवार को प्रदर्शनकारियों ने हमला किया। करीब 60 प्रोटेस्टर्स ने बस को घेर लिया। प्रदर्शनकारियों ने ड्राइवर से बस रोकने को कहा। जब ड्राइवर ने बस नहीं रोकी तो उस पर पथराव किया गया। बस स्टाफर्स ने बच्चों को हमले से बचने के लिए सीटों के पीछे छिपने को कहा। ड्राइवर ने बच्चों की सेफ्टी को देखते हुए बस को रोका नहीं।
– प्रदेश के कई शहरों में सिनेमा मालिक पद्मावत की स्क्रीनिंग को लेकर अब भी पशोपेश में हैं। उधर, फिल्म के विरोध में तोड़फोड़ की घटनाओं के बाद सरकार ने मॉल और मल्टीप्लेक्स को सुरक्षा मुहैया कराई है। गुड़गांव, फरीदाबाद, चंडीगढ़, पंचकूला, कुरुक्षेत्र और पलवल में कुछ जगहों पर एहतियातन धारा 144 लगाई गई है। गुड़गांव के सिनेमाहॉल और मल्टीप्लेक्स के 200 मीटर दायरे में प्रदर्शनों पर पूरी तरह से रोक है।

उत्तर प्रदेश
– मेरठ में पीवीएस मॉल पर पथराव कर काफी तोड़फोड़ की। 10-12 नकाबपोश हमलावर बाइक पर आए थे। यहां बुधवार शाम कई स्क्रीन पर पद्मावत के दो प्री रिलीज शो होने थे। मथुरा में भूतेश्वर स्टेशन पर ट्रेन रोकी गई। लखनऊ में थिएटर और मॉल्स में प्रदर्शन हुए।

गुजरात
– गुजरात के अहमदाबाद में राजपूत संगठन के लोगों ने मंगलवार रात कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। तीन से चार मॉल में तोड़फोड़ और पथराव हुआ। आगजनी के 50 आरोपी पकड़े गए। कई इलाकों में जाम लगा। एक बस में तोड़फोड़ की गई। जूनागढ़ में गुरुवार को बंद का एलान किया गया है। आरएएफ ने अहमदाबाद में फ्लैग मार्च किया।

महाराष्ट्र
– महाराष्ट्र में कई जगह प्रदर्शन हुए। फिल्म के विरोध में तोड़फोड़ करने वाले 30 लोग हिरासत में लिए गए।

जम्मू
– जम्मू में एक सिनेमा हॉल के टिकट काउंटर पर पथराव हुआ। प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी की।

मध्यप्रदेश
– ग्वालियर, उज्जैन, रतलाम, मुरैना में प्रदर्शन हुए। भोपाल के एक व्यस्त चौराहे पर कार जला दी गई। इंदौर में वाहनों में तोड़फोड़ की गई।

सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को क्या हुआ?
– जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस एएम खनविलकर और जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की बेंच के सामने पद्मावत को रिलीज से रोकने के लिए बुधवार को एक और पिटीशन दायर की गई। इस पर 29 जनवरी को सुनावई होगी।

फिल्म को लेकर विवाद क्या है?
– राजस्थान में करणी सेना, बीजेपी लीडर्स और हिंदूवादी संगठनों ने इतिहास से छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। राजपूत करणी सेना का मानना है कि ​इस फिल्म में पद्मिनी और खिलजी के बीच सीन फिल्माए जाने से उनकी भावनाओं को ठेस पहुंची।