राजस्थान में 11 लाख युवाओं को “बेटी बचाओ” का संदेश देकर बनाया रिकॉर्ड

0
19

जयपुर /कोटा। राष्ट्रीय बालिका दिवस पर बुधवार को प्रदेशभर में 6 हजार 200 स्कूल, कॉलेज व शिक्षण संस्थानों में सुबह 10 से 1 बजे के बीच महा-जागरूकता उत्सव आयोजित कर 11 लाख 51 हजार युवाओं को बेटी बचाओ का संदेश देकर कीर्तिमान स्थापित किया। साथ ही सभी स्थानों पर एक ही समय सुबह 10 से 12 बजे इतने ही युवाओं ने एक साथ राष्ट्रगान गाकर एक और नया रिकाॅर्ड कायम किया है। 

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सर्राफ ने इस महाआयोजन के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के निदेशक नवीन जैन एवं सभी डैप रक्षकों के प्रयास की सराहना की। जैन ने बताया कि प्रदेशभर में आयोजित इन कार्यक्रमों में 10 लाख 1 हजार 650 युवाओं ने शपथ लेकर विश्व कीर्तिमान कायम किया है।

कोटा में एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट में जागरूकता उत्सव का आयोजन किया गया है। इस कार्यक्रम में भावी डॉक्टर्स ने भ्रूण हत्या नहीं होने देने का संकल्प लिया। जिले में 245 स्कूल-काॅलेज और अन्य स्थानों पर डाॅटर्स आर प्रीशियस संवाद का आयोजन हुआ जिसमें 36 हजार 377 से अधिक युवाओं को बेटी बचाओ का संदेश देने में सहभागिता निभाई।

कार्यक्रम कुन्हाड़ी स्थित लैंडमार्क सिटी के सम्यक कैम्पस में आयोजित किया गया। यहां दो सत्रों में हुए कार्यक्रम में करीब चार हजार मेडिकल प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाली छात्राओं ने कहा कि डाॅक्टर बनेंगे, नहीं होने देंगे भ्रूण हत्या। कार्यक्रम में सांसद ओम बिरला ने कहा कि बेटियां ही भारत को बदल सकती हैं।

बेटी पर एक ही नहीं वरन दो परिवार निर्भर होते हैं। वह दोनों परिवारों में संस्कारों का परिवहन करती है। मेरा प्रयास है कि मेरे लोकसभा क्षेत्र में 2022 तक कोई बेटी, महिला, बालिका शिक्षा से वंचित नहीं रहे। इसके लिए गांव-गांव में पाठशालाएं शुरू करने के लिए प्रयासरत हूं। कार्यक्रम में जिला कलेक्टर रोहित गुप्ता, सीएमएचओ डाॅ. आरके लवानिया और एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के निदेशक नवीन माहेश्वरी उपस्थित रहे।

इधर, राष्ट्रीय बालिका दिवस पर सेवारत चिकित्सक संघ के आह्वान पर कोटा के सेवारत डॉक्टरों ने अस्पतालों में कन्या भ्रूण हत्या रोकने के बारे में बताया। डॉक्टरों ने अपनी बेटियों के साथ सेल्फी ली। डॉक्टरों ने आंगनबाड़ी केन्द्र तीन की आशा सहयोगिनी निशा मीणा ने मॉडर्न मिलेनियम पब्लिक स्कूल सिविल लाइंस खंड गांवड़ी में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का कार्यक्रम रखा गया। कार्यक्रम में प्रधानाध्यापिका मंजेश तिवारी, उमेश, शिक्षक शामिल थे।

वहीं, जेसीआई कोटा सुरभि ने बालिका दिवस के अवसर पर बेटियां अनमोल हैं’ का जागरूकता सेमिनार का आयोजन किया। अध्यक्ष जैसी मीनल वासल ने भ्रूण हत्या रोकने, महिला सशक्तिकरण, बेटी बचाओ अभियान को लेकर कोचिंग संस्थान में अपने विचार रखे। प्रज्ञा मेहता ने बच्चों को समाज में भागीदारी करने की प्रेरणा दी।