इस मकर संक्रांति देश के पहले एग्री ऑप्शंस को लॉन्च करेंगे वित्त मंत्री

0
28

मुंबई। नेशनल कमोडिटी और डेरिवेटिव्स एक्सचेंज लिमिटेड (एनसीडीईएक्स) भारत के किसानों के लिए कृषि-अर्थव्यवस्था को अधिक कुशल बनाने और बडी मात्रा में मूल्य लाने के प्रयास में ग्वार बीज में देश के पहले एग्री कमोडिटी ऑप्शंस की शुरुआत करने जा रहा है।

देशभर के विभिन्न राज्यों से आए किसानों और एफपीओ की उपस्थिति में मकर संक्रांति केअवसर पर, 14 जनवरी को  केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा इस अनूठे और अपनी तरह के पहले हेजिंग टूल का उद्घाटन किया जाएगा।

एनसीडीईएक्स ग्वार बीज ऑप्शंस एक महत्वपूर्ण हेजिंग टूल है, जो किसानों के जीवन में परिवर्तन लाएगा।  उम्मीद है कि एनसीडीईएक्स द्वारा डिजाइन किया गया और सिक्यूरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया- सेबी द्वारा अनुमोदित इस साधन से कमोडिटी में गहराई से व्यापार करना संभव होगा और किसानों को सीमित जोखिम के साथ उनकी उपज के लिए बेहतर मूल्य दिलाने में मददगार साबित होगा।

यह लॉन्चिंग इस तथ्य से काफी हद तक प्रेरित है कि ग्वार बीज एनसीडीईएक्स प्लेटफॉर्म पर सबसे अधिक तरल अनुबंधों में से एक है और राजस्थान के कुछ समुदायों में बड़ी संख्या में अनौपचारिक व्यापार केंद्र के साथ पहले से ही अनौपचारिक ऑप्शंस ट्रेडिंग के किसी रूप में शामिल है।

लॉन्चिंग समारोह का एलान करते हुए एनसीडीईएक्स के एमडी और सीईओ  समीर शाह ने कहा- ‘‘इस नए हेजिंग टूल को लॉन्च करने की अनुमति देने के लिए हम सेबी के आभारी हैं, जिसकी मदद से किसानों के लिए जोखिम का स्तर कम होगा और उन्हें अपने उत्पाद के लिए बेहतर कीमत मिल सकेगी।

यह ऑप्शंस कीमतों में गिरावट के दौरान किसानों को बचाने के साथ-साथ कीमतों में बढोतरी के दौरान उन्हें उच्च कीमत पर अपने उत्पाद बेचने का अवसर प्रदान करेगा। इस तरह कीमतों में उतार-चढाव के बावजूद यह टूल किसानों के लिए हर लिहाज से फायदेमेंद साबित होगा।‘‘

इस नए कृषि हेजिंग उपकरण के बारे में जागरूकता को बढ़ावा देने के लिए, एक्सचेंज ने वैल्यू चैन में जागरूकता कार्यक्रमों और प्रशिक्षण की एक श्रृंखला शुरू कर दी है। एक्सचेंज इस अवसर पर एक मोबाइल एप्लिकेशन भी लॉन्च करेगा जहां किसान एग्री ऑप्शंस और कमोडिटी मार्केट के बारे में और अधिक जानकारी हासिल कर सकेंगे।