SC का आदेश, 25 साल से अधिक वाले भी दे सकेंगे NEET परीक्षा

0
3
नई दिल्ली ।सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को एक अहम आदेश देते हुए कहा है कि अब AIPMT/NEET की परीक्षा में 25 साल से अधिक उम्र के छात्र भी शामिल हो सकेंगे। इस फैसले के साथ ही NEET परीक्षा के लिए फॉर्म भरने की तारीख बढ़ाकर 5 अप्रैल कर दी गई है।
कोर्ट के इस फैसले को NEET परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों के लिए बड़ी राहत माना जा रहा है। पहले UGC की मीटिंग में यह निर्णय लिया गया था कि NEET के लिए वही योग्य होंगे जिनकी उम्र सामान्य श्रेणी में 17 से 25 साल तक है। आरक्षित श्रेणी में 30 साल की उम्र तक छूट थी। इसके अलावा, 2013 से जो तीन बार परीक्षा में शामिल हो चुके छात्रों पर भी इस बार रोक लगा दी गई थी। वेबसाइट पर नोटिफिकेशन और फॉर्म आने के बाद ज्यादातर स्टूडेंट्स को इसकी जानकारी मिली और इसके बाद इस निर्णय के विरोध में छात्रों के प्रदर्शन तेज हो गए थे।
बता दे कि इससे पहले NEET परीक्षा के विषय में यह निर्णय भी लिया गया था कि 2013 के बजाय 2017 को ही पहला अटेम्प्ट माना जाएगा। इसके साथ ही अब सुप्रीम कोर्ट के ताजा निर्णय के बाद 25 साल की उम्र से अधिक के अभ्यर्थी भी परीक्षा में शामिल हो सकेंगे। इसके लिए अब फॉर्म भरने की अंतिम तारीख भी बढ़ाकर 5 अप्रैल कर दी गई है ताकि जो छात्र पहले फॉर्म नहीं भर सके थे वह भी इस साल की परीक्षा के लिए अप्लाई कर दें।
गौरतलब है कि देशभर में राज्य और केंद्र सरकार के मेडिकल कॉलेजों में ऐडमिशन अब NEET के माध्यम से होता है। एम्स और पुडुचेरी के जवाहरलाल इंस्टिट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रैजुएट मेडिकल एजुकेशन ऐंड रिसर्च (JIPMER) के अलावा कहीं भी ऐडमिशन लेने के लिए NEET पास करना अनिवार्य है। एम्स में वर्तमान में 750 सीटें हैं वहीं JIPMER में 200 सीटें हैं