आयकर विभाग ने 7,961 करोड़ की अघोषित आय उजागर की

0
21

नई दिल्ली। आयकर विभाग ने नोटबंदी के बाद 7,961 करोड़ रुपये की अघोषित आय का पता लगाया है। यह आंकड़ा पिछले साल नवंबर महीने से लेकर इस साल के मार्च महीने तक का है।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने बीते साल नोटबंदी का फैसला 8 नवंबर को लिया था। इस फैसले के बाद ही 9 नवंबर 2016 से उस वक्त बाजार में प्रचलित 500 और 1000 रुपए के नोट अमान्य कर दिए गए थे जो कि कुल करेंसी का 86 फीसद हिस्सा थे।

लोकसभा में दिए गए लिखित जवाब में वित्त राज्यमंत्री पॉन राधाकृष्णन ने बताया कि विभाग ने इस अवधि के दौरान हमने 900 समूहों के ठिकानों पर छापेमारी की थी जिसमें करीब 900 करोड़ रुपए जब्त किए गए और 7,961 करोड़ रुपए की अघोषित आय का पता चला।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते साल नोटबंदी की घोषणा कालेधन पर अंकुश लगाने, जाली करेंसी को खत्म करने और भ्रष्टाचार का खात्मा करने के इरादे से की थी। 

मंत्री ने आगे कहा कि एनसीआरबी (नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो) में उपलब्ध डेटा के मुताबिक नोटबंदी के बाद 30 नवंबर 2017 तक राज्य पुलिस की ओर से करीब 18.70 करोड़ रुपए के जाली नोट पकड़े गए थे, जबकि इससे पिछले वर्ष करीब 15.70 करोड़ रुपए के जाली नोट पकड़े गए थे।