कोटा के किशोर सागर में उतारेंगे सी-प्लेन : ओम बिरला

0
8

कोटा। शहर में  नए एयरपोर्ट को जरूरी बताते हुए सांसद ओम बिरला ने कहा कि यहां के लिए मास्टर प्लान में जमीन अधिकृत कर दी गई है। अब यूआईटी अध्यक्ष को प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भेजना है। वहां से जैसे ही प्रस्ताव केन्द्र सरकार के पास जाएगा, उसे एक माह में स्वीकृत करवा दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी की देश में सी-प्लेन चलाने की मंशा थी जो पूरी हो रही है। कोटा में भी इसे शुरू किया जाएगा। कोई भी तकनीकी परेशानी नहीं हुई तो इसे वर्ष 2018 में शुरू कर दिया जाएगा। इसे किशोर सागर तालाब या चंबल में उतारा जाएगा। वहां चंबल घड़ियाल सेंचुरी के कारण परेशानी सकती है।

सांसद बिरला सरकार के चार साल पूरे होने पर शनिवार को महाराव उम्मेदसिंह स्टेडियम में हुए समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। इस मौके पर  प्रभारी मंत्री प्रभुलाल सैनी ने कहा कि प्रदेश में लगी जैतून की रिफाइनरी खेती से पूरे देश में प्रदेश का नाम हुआ है। इसके अलावा पर्यटन, सोलर ऊर्जा स्किल डवलपमेंट में भी सरकार ने बेहतर काम किया है।

उन्होंने कहा कि यहां भामाशाह मंडी का विस्तार किया जा रहा है। इसके लिए 96 हेक्टेयर जमीन का प्रस्ताव बनाकर भेज दिया गया है। उन्होंने कोटा में मंडी का विस्तार के साथ ही 16 करोड़ की लागत से आॅडिटोरियम का निर्माण की जानकारी दी। समारोह में सात विकास कार्यों के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए गए।

इन कार्यों का किया लोकार्पण-शिलान्यास
समारोह में पुलिस थाना देवली के 168.62 लाख की लागत से निर्मित प्रशासनिक भवन व 273 लाख की लागत से निर्मित आवासों, टैगोर नगर कोटा में 2.85 करोड़ की लागत से निर्मित अल्प संख्यक महिला छात्रावास का लोकार्पण किया। वहीं, 75 लाख केे उप पंजीयन कार्यालय इटावा, 120.77 लाख की लागत से बनने वाले पीएचसी गैंता, 52.43 लाख से बनने वाले उप पंजीयन प्रथम कार्यालय के नवीन भवन का शिलान्यास किया गया।