ऐमजॉन को भी देना होगा आधार, बिना इसके खोए पैकेज ढूंढना होगा मुश्किल

0
17

नई दिल्ली। सरकारी तो सरकारी अब प्राइवेट सर्विसेज के लिए भी आधार लिंकिंग की जरूरत पड़ने लगी है। जी हां, देश में ई-कॉमर्स सेक्टर की बड़ी कंपनी ऐमजॉन इंडिया अपने ग्राहकों से उनके ऐमजॉन अकाउंट को आधार से लिंक करने को कह रही है।

ऐमजॉन का कहना है कि उसकी वेबसाइट पर आधार नंबर अपलोड करने से किसी खोए पैकेज को आसानी से ढूंढा जा सकेगा। ऐमजॉन अपने ग्राहकों को बता रहा है कि अगर आधार की कॉपी वेबसाइट पर अपलोड नहीं की गई तो कोई समस्या आने पर इसके समाधान में देरी हो सकती है।

ऐमजॉन का यह कदम तब सामने आया है जब सरकार विभिन्नि योजनाओं के तहत सब्सिडी और सरकारी सेवाएं पाने के लिए 12 अंकों का आधार नंबर अलग-अलग प्लैटफॉर्मों से लिंक करने को कह रही है। सरकार के इस आदेश की व्यापक आलोचना भी हो रही है और मामला सुप्रीम कोर्ट में चला गया है।

ऐमजॉन अकाउंट से आधार लिंक नहीं किया तो?
आधार नंबर नहीं देने पर ऐमजॉन किसी समस्या के समाधान की देने की गारंटी नहीं देगा।  अगर आपने अपना आधार अब तक नहीं बनाया है या आप आधार डीटेल नहीं देना चाहते हैं तो आपका ऑर्डर गुम होने पर ऐमजॉन उसे आपके किसी अन्य सरकारी आईडी प्रूफ के जरिए ढूंढने की कोशिश करेगा।

लेकिन इससे आपको थोड़ी दिक्कत हो सकती है और लंबे समय तक इंतजार करना पड़ सकता है। बजफिड न्यूज के मुताबिक, जिन ग्राहकों ने आधार लिंक नहीं किए, ऐमजॉन उनके कंप्लेंट्स भी नहीं ले रहा है।

दूसरी कंपनियां भी मांगेगी आधार?
कहा जा रहा है कि एयरबीएनबी, ऊबर और ओला जैसी बड़ी कंपनियां भी भारत में उनकी सर्विसेज लेने के लिए आधार को जरूरी बनाने के रास्ते तलाश रही हैं। इससे पहले, माइक्रोसॉफ्ट ने फरवरी महीने से ही भारतीयों को स्काइप लाइट यूज करने के लिए आधार ऑथेंटिकेशन को मैंडटरी बना दिया है।