तीन फीसद प्रीमियम के साथ लिस्ट हुआ भारत 22 ETF

0
14

नई दिल्ली । शेयर बाजार में आज भारत 22 ईटीएफ की लिस्टिंग हो गई है। इसे बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) पर लिस्ट किया गया है। भारत 22 ईटीएफ, शुरुआती कारोबार में तीन फीसद तक की तेजी के साथ 37.33 रुपये प्रति यूनिट पर लिस्ट हुआ है।

 भारत 22 ईटीएफ कुल 4 गुना सब्सक्राइब्ड हुआ था, जबकि एंकर इन्वेस्टर का हिस्सा 6 गुना सब्सक्राइब्ड किया गया। सरकार ने इसके जरिए कुल 14500 करोड़ रुपये जुटाए हैं। इसमें केंद्र सरकार की कंपनियां, एसयूयूटीआई, पीएसयू बैंक जैसी 6 कोर सेक्टर की 22 कंपनियों के शेयर शामिल हैं। इसका इश्यू प्राइस 35.97 रुपये प्रति यूनिट है।

डिपार्टमेंट ऑफ इन्वेस्टमेंट एंड पब्लिक ऐसेट मैनेजमेंट के सचिव नीरज कुमार गुप्ता ने बताया था कि भारत 22 ईटीएफ ने चालू वित्त वर्ष में अबतक विनिवेश के जरिए 52500 करोड़ रुपये जुटा लिये हैं। यह एंकर इन्वेस्टर्स के लिए 14 नवंबर से एनएफओ के लिए और रिटेल निवेशकों के लिए 15 नवंबर से 17 नवंबर तक खुला था।

इस दौरान इसे 4 गुना सब्सक्रिप्शन प्राप्त हुआ था। इस ईटीएफ के जरिये सरकार का इरादा 8,000 करोड़ रुपये जुटाने का था। यह ईटीएफ 22 ब्लूचिप कंपनियों का एक डायवर्सिफाइड पोर्टफोलियो था। यह सरकार के समग्र विनिवेश कार्यक्रम का एक हिस्सा रहा है।

भारत 22 में कौन कौन कंपनियां शामिल:
भारत-22 ईटीएफ में सीपीएसई, पीएसयू बैंक और एसयूयूटीआई की कंपनियां शामिल हैं। अगर सीपीईसी की बात करें तो इसमें कंटेनर कार्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड, आईओसी, भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड, पीएफसी, कोल इंडिया, ओएनजीसी, गेल, एनर्जी इंडिया लिमिटेड, रुरल इलेक्ट्रिफिकेशन कॉरपोरेशन लिमिटेड और ऑयल इंडिया लिमिटेड शामिल हैं। वहीं भारत-22 ईटीएफ में 6 सेक्टर भी शामिल हैं।

ये आधारभूत सामग्री, ऊर्जा, वित्त, एफएमसीजी, औद्योगिक और उपभोक्ता सेवा से जुड़ी कंपनियां हैं। भारत-22 ईटीएफ में सेक्टोरल शेयर लिमिट 20 फीसदी तय की गई है, जबकि ईटीएफ में कंपनी विनिवेश पर लिमिट 15 फीसदी तय की गई है। इसमें तीन बैंक एसबीआई, बैंक ऑफ बड़ौदा और इंडियन बैंक शामिल हैं।

कोल इंडिया के शेयर्स भारत 22 ईटीएफ को किये ट्रांस्फर
सरकार ने कोल इंडिया के 507 करोड़ रुपये के शेयर्स भारत 22 ईटीएफ को हस्तांतरित कर दिये हैं। यह जानकारी सोमवार को रेग्युलेटरी फाइलिंग से मिली है। बीएसई की फाइलिंग में कोल इंडिया लिमिटेड ने बताया कि “कोल मंत्रालय ने देश के राष्ट्रपति की ओर से 1,92,99,613 इक्विटी शेयर्स भारत 22 ईटीएफ को 507 करोड़ रुपये में ट्रांस्फर कर दिये गये हैं।”