सोने का आयात बढ़ा, वित्त वर्ष 2018 में 700 टन रहने का अनुमान

0
13

नई दिल्ली । चालू वित्त वर्ष के दौरान भारत में सोने का आयात बढ़कर 700 टन पहुंचने का अनुमान है। आपको बता दें कि वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान यह आंकड़ा 500 टन का रहा था। यह जानकारी एक शीर्ष उद्योग संगठन ने दी है।

जेम्स एंड ज्वैलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल (जीजेईपीसी) के अध्यक्ष प्रवीणशंकर पांड्या ने मांग की सोने पर आयात शुल्क घटाकर 4 से 5 फीसद के स्तर पर लाया जाए। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि सोने पर 10 फीसद का आयात शुल्क तस्करी को बढ़ावा देता है।

उन्होंने कहा, “भारत में कारोबार करने की कठिनाई और 10 फीसद का आयात शुल्क हमारे विकास में बाधा डाल रहा है।” जीजेईपीसी के मुख्य कार्यकारी निदेशक ने कहा सब्यसाची राय ने बताया हमने वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान 500 टन सोने का आयात किया था, लेकिन इस वित्त वर्ष हम 700 टन सोने का आयात करेंगे।

जीजेईपीसी के मुताबिक जनवरी 2018 से दुबई की ओर से सोने पर 5 फीसद वैट की शुरुआत और इसी साल जनवरी में खाड़ी देशों की ओर से सोने और हीरे के गहने पर 5 फीसद का आयात शुल्क लगाया जाना इस सेक्टर में भारत के निर्यात को प्रभावित करेगा।

दुबई एक प्रमुख पारगमन बिंदु (ट्रांजिट प्वाइंट) के रूप में कार्य करता है और भारत से होने वाले 7.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर के सोने के आभूषण निर्यात में से 50 फीसद से अधिक की हिस्सेदारी रखता है। परिषद को उम्मीद है कि मौजूदा वित्त वर्ष में रत्न और आभूषण निर्यात 43 अरब डॉलर के करीब रह सकता है।